‘लव जिहाद’ पर छात्रों को सीख देना चाहती है वसुंधरा सरकार, ‘आध्यात्मिक मेले’ में सभी स्कूली बच्चों को भेजने का दिया आदेश, मेले में बेची जा रही है भड़काऊ किताब

0

राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने जयपुर के स्कूली छात्रों और शिक्षकों को वहां चल रहे ‘आध्यात्मिक मेले’ में जाने का निर्देश दिया है। यह आदेश इसलिए दिया गया है कि ताकि वे वहां पर ‘लव जिहाद’ के बारे में सीख सकें, ईसाइयों के षडयंत्र की किताब खरीद सकें, शाकाहारी बनने की शपथ लें और गाय को ‘राष्ट्रीय माता’ घोषित करने के लिए चलाए जा रहे अभियान पर अपने साइन करें।

PHOTO: TOIइंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक जयपुर के अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी ने पुष्टि की है कि जयपुर के सरकारी और निजी स्कूलों से बच्चों को मेले में भेजने को कहा गया है। बता दें कि ये मेला हिंदू आध्यात्मिक और सेवा फाउंडेशन (HSSF) द्वारा आयोजित किया गया है। ये संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से जुड़ा बताया जाता है।

शिक्षा अधिकारी दीपक शुक्ला ने कहा कि मेले के आयोजनकर्ताओं की मदद करने के लिए राज्य के सभी सरकारी और निजी स्कूलों से मेले में बच्चों की उपस्थिति दर्ज कराने के लिए कहा गया है। उन्होंने बताया कि यह निर्देश प्राइमरी एंड सेकेंडरी एडुकेशन मिनिस्टर वसुदेव देवनानी द्वारा दिए गए हैं।

अखबार के अनुसार शुक्ला ने बताया कि इस मेले के आयोजनकर्ता हिंदू अध्यात्मिक और सेवा मेला ने खुद ही सभी स्कूलों से संपर्क किया था, लेकिन स्कूलों का कहना था कि जब तक हमें आदेश नहीं मिलेंगे तब तक वे बच्चों और शिक्षकों को मेले में नहीं भेजेंग, इसलिए माननीय मंत्री जी द्वारा निर्देश दिए जाने के बाद अब आयोजनकर्ताओं की मदद हो पाएगी।

आध्यात्मिक मेले में बेची जा रही है भड़काऊ किताब

वहीं, टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार जयपुर में चल रहे इस आध्यात्मिक मेले में विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल के सदस्यों के विवादित ‘लव जिहाद’ की भड़काऊ बुकलेट और पर्चे बांटने का मामला सामने आया है। रिपोर्ट के मुताबिक इस बुकलेट के जरिए मुस्लिम विरोधी तथ्यों को बढ़ावा दिया जा रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक बांटे जा रहे पर्चे में बताया गया है कि लव जिहाद के बारे में हिंदू परिवारों को क्या-क्या सावधानी बरतनी चाहिए। साथ ही ये भी लिखा गया है कि लव जिहाद, जिहाद का एक सशक्त प्रकार है यहां भारत में मुगलों ने 1000 साल से चला रखा है। पर्चों में आमिर खान और सैफ अली खान का उदाहरण दिया गया है।

रिपोर्ट के मुताबिक पांच रुपये में बेची जा रही बुकलेट में लव जिहाद के खिलाफ अभियान चलाते हुए हिंदू परिवार की महिलाओं को मुस्लिमों को आतंकवादी, देशद्रोही, पाकिस्तानी समर्थक, व्यभिचारी और तस्कर जैसे शब्दों से परिभाषित करने की सलाह दी गई है।

इतना ही नहीं इस बुकलेट में बॉलीवुड अभिनेत्री करीना कपूर की तस्वीर से छेड़छाड़ कर उनके चेहरे का इस्तेमाल किया गया है। चेहरे को नकाब से ढका दिखाया गया है और माथे पर बिंदी लगी है। बेची जा रही बुकलेट में लिखा गया है कि हिन्दू महिलाओं का लव जिहाद के जरिए धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है।

 

 

 

 

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here