VIDEO: जैन मुनि ने लड़कियों को बताया ‘सामग्री’, कहा- अपराध की घटनाओं में 95 फीसदी गलती लड़कियों की होती है

1

देश में कड़े कानून बनने के बाद भी मासूम बच्चियों और महिलाओं के साथ रेप व छेड़छाड़ की घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। वहीं, दूसरी ओर इस मामले पर लोग अपने अजीबो-गरीब बयान देने से भी बाज नहीं रहे है। इसी बीच अब जैन मुनी विश्रांत सागर ने विवादित बयान देते हुए देश भर की लड़कियों को ‘सामग्री’ बताया है और उन्हें संयमित रहने की सलाह दी है।

मध्य प्रदेश के सीकर में जैन मुनी विश्रांत सागर ने विवादित बयान देते हुए देश भर की लड़कियों को सामग्री बताया है और उन्हें संयमित रहने की सलाह दी है। साथ ही उन्होंने कहा है कि लड़कियों के खिलाफ अपराध की घटनाओं में 95 फीसदी गलती लड़कियों की होती है।

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, सीकर जिला मुख्यलय पर चातुर्मास कर रहे जैन मुनि विश्रांत सागर ने बुधवार ( 29 अगस्त) को पत्रकार वार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज के समय में लड़कियों को बेहद संभल कर चलने की जरुरत है क्योंकि लड़कियों को अपने पीहर पक्ष और ससुराल पक्ष दोनों की इज्ज्ज बचा कर रखनी है।

यही नहीं जैन मुनि ने लड़कियों को सामग्री बताया। उन्होंने कहा की आज के समय में लड़कियों को पाश्चात्य संस्क्रति के बहकावे में नही आकर, संस्कार के साथ शिक्षा ग्रहण करनी चाहिये।

बता दें कि जैन मुनी विश्रांत सागर का यह बयान उस समय में आया है जब एक रिपोर्ट के मुताबिक भारत को महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बताया गया है। वहीं, पिछले कुछ दिनों में ऐसी भी घटनाएं हुई हैं जिनमें बिहार के पटना से लेकर यूपी के देवरिया तक के शेल्टर होम्स में अनाथ बच्चियों को तार-तार कर दिया गया है।

देखिए वीडियो :

Pizza Hut

1 COMMENT

  1. Aise pakhandi log jo mahilaon ko samagri samajhte aur bolte hai kya wo kabhi bhi kisi mahila ko barabri ka adhikaar denge kabhi nahi, aurat unke liye bas ek samagri se jayada kuchh nahi jiska koi adhikar nahi hota jo bas estemal ke liye hoti hai……

    Supreme court ko eska sangeyan lena chahiye aur aise pakhnadi log jo dharm ka chola pahan kar mahilaon ke bare me galat galat bolte hai unhe jail me daal dena chahiye…….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here