गुजरात: छात्रा से बलात्कार के आरोप में जैन मुनि आचार्य शांतिसागर गिरफ्तार

1

गुजरात के सूरत में युवती से रेप के आरोप में जैन मुनि आचार्य शांति सागर महाराज को पुलिस ने शनिवार(14 अक्टूबर) को गिरफ्तार कर लिया है। गुजरात की 19 वर्षीय युवती ने जैन मुनि शांति सागर पर बलात्कार करने का आरोप लगाया था। युवती की अस्पताल में मेडिकल जांच में दुष्कर्म की पुष्टि हो गई। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता मूल रूप से मध्य प्रदेश की रहने वाली है, जो गुजरात के वडोदरा में रहती है। सूरत के पुलिस कमिश्नर को पत्र लिख कर आरोप लगाया कि जैन मुनि ने एक अक्तूबर को सूरत के नानपुरा टीमलियावाड में उससे दुष्कर्म किया था। वह वहां अपने परिजनों के साथ उनके पास धार्मिक प्रसंग में आई थी।

युवती की ओर से दर्ज कराई गई शिकायत में कहा गया है कि वह जैन मुनि के पास एक अक्टूबर को आशीर्वाद लेने उनके उपाश्रय गई थी। आरोप है कि शांतिसागर महाराज ने छात्रा से कहा कि मंत्र जाप करने के लिए उसे रात में मंदिर में ही रुकना होगा। रात में कथित जैन मुनि कमरे में आए और उसके साथ रेप किया।

रिपोर्ट के मुताबिक, मुनि को बचाने के लिए जैन समाज के लोग भारी संख्या में कमिश्नर दफ्तर पहुंच गए और कहने लगे कि छात्रा बदनाम करने के लिए झूठे आरोप लगा रही है। लोगों का कहना है कि इस मामले की न्यायिक जांच कराई जाए। हालांकि प्रशासन के लोगों ने जैन समाज के लोगों को समझा बुझाकर वहां से लौटा दिया।

मेडिकल रिपोर्ट में छात्रा से बलात्कार की पुष्टि होने पर शनिवार शाम शांति सागर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि आचार्य शांतिसागर ने रेप के बाद छात्रा को धमकी देते हुए कहा था कि वह बाहर जाकर इस बारे में किसी को नहीं बताए, वरना उसके साथ कुछ भी हो सकता है।

 

 

1 COMMENT

  1. In these perilous days, who would take the risk of when approaching a girl when one knows that the arrest is imminent as soon as she cries rape? Was the Baba that big a fool?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here