पाकिस्तान को आतंकवाद प्रायोजक देश घोषित करने की याचिका को पांच लाख लोगों ने दिया भरपूर समर्थन

0

पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रायोजक देश घोषित करने के प्रस्ताव वाली व्हाइट हाउस की ऑनलाइन याचिका पर करीब पांच लाख लोगों ने समर्थन दिया है. यह ओबामा प्रशासन से इस बारे में जवाब मिलने के लिए जरूरी संख्या से पांच गुना हैं।

यह याचिका आरजी नाम के एक व्यक्ति ने 21 सितंबर को जारी की थी इस संबंध में व्हाइट हाउस से जवाब मिलने के लिए तीस दिन में एक लाख हस्ताक्षरों की आवश्यकता थी। लेकिन एक सप्ताह के अंदर ही एक लाख का आंकड़ा पार हो गया और दो सप्ताह से भी कम समय में पांच लाख लोगों ने इस याचिका पर हस्ताक्षर कर दिया। यह याचिका अब व्हाइट हाउस की वेबसाइट पर मशहूर हो गयी है, ओबामा प्रशासन 60 दिनों में याचिका पर जवाब दे सकता है।

Also Read:  डिलीवरी से पहले करीना कपूर ने सैफ अली खान के साथ शाही अंदाज़ में कराया फोटोशूट

भाषा की खबर के अनुसार, अपने फेसबुक पेज पर इस याचिका को शेयर करने वाली जार्जटाउन यूनीवर्सिटी की वैज्ञानिक अंजू प्रीत ने कहा, “हम लोगों की पाकिस्तान को आतंकवाद का प्रायोजक देश घोषित करने के लिए प्रशासन से कहने” वाली याचिका के समर्थकों ने दस लाख हस्ताक्षरों का लक्ष्य निर्धारित किया है। हम इससे पहले नहीं रुकेंगे।

Also Read:  प्रेसिडेंसी यूनिवर्सिटी ने नहीं दिया प्रधानमंत्री मोदी को न्यौता, मनमोहन करेंगे 200वीं सालगिरह पर संबोधित

उन्होंने कहा, “अब सक्रियता दिखाने का समय है. व्हाइट हाउस के साथ याचिका पर हस्ताक्षर करने में हम सब हाथ मिलाएं.” आतंकवाद पर कांग्रेस की उप समिति के अध्यक्ष टेड पो ने कांग्रेस के एक और साथी सदस्य डाना रोहराबेकर के साथ मिलकर याचिका एचआर 6069 पेश की थी. याचिका पर 21 अक्टूबर तक दस्तखत किये जा सकते हैं।

Also Read:  Indian-American children recite poem at White House

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here