ISRO ने एक साथ 14 देशों के 31 सैटेलाइट लॉन्च कर रचा इतिहास

0

जीएसएलवी एमके-3 के सफलता के बाद शुक्रवार(23 जून) को इसरो ने 31 सैटलाइट एक साथ लॉन्च किए, जिनमें विदेशी नैनो सैटलाइट भी शामिल है। लॉन्च के वक्त इसरो के चेयरमैन एएस किरन कुमार भी मौजूद थे और उन्होंने साथी वैज्ञानिकों को बधाई दी। इस पीएसएलवी ने इसरो के लॉन्चिंग पैड श्रीहरिकोटा से उड़ान भरी। इस लॉन्च के साथ ही इसरो की ओर से कुल स्पेसक्राफ्ट मिशनों की संख्या 90 हो गई।

ISRO
फोटो- ANI

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, इस क्रम में धरती के अवलोकन के लिए प्रक्षेपित किए जा रहे 712 किलोग्राम वजनी कार्टोसैट-2 श्रृंखला के इस उपग्रह के साथ करीब 243 किलोग्राम वजनी 30 अन्य सह उपग्रहों को भी एक साथ प्रक्षेपित किया गया। पीएसएलवी-सी38 के साथ भेजे गए इन सभी उपग्रहों का कुल वजन करीब 955 किलोग्राम है।

ख़बरों के अनुसार, यह यान 14 देशों से 29 नैनो उपग्रह लेकर जा रहा है, जिसमें ऑस्ट्रया, बेल्जियम, ब्रिटेन, चिली, चेक गणराज्य, फिनलैंड, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, लातविया, लिथुआनिया, स्लोवाकिया और अमेरिका के साथ-साथ भारत का एक नैनो उपग्रह भी शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here