‘भोपाल में पकड़े गए ISI एजेंटों में एक भी मुसलमान नहीं है, मोदी भक्तों कुछ तो सोचो।’

0

मध्यप्रदेश एटीएस ने 11 लोगों को पाकिस्तानी जासूसी एजेंसी आईएसआई को सेना की ख़ुफ़िया सूचना देने के आरोप में गिरफ्तार किया है। जो जम्मू कश्मीर के आरएसपुरा सेक्टर से सेना की जानकारी एकत्र कर पाकिस्तानी हेण्डलरों को देते थे। इस पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शुक्रवार (10 फरवरी) को एक ट्वीट में कहा कि,  ‘भोपाल में पकड़े गए आईएसआई के एजेंटों में एक भी मुसलमान नहीं है, उनमें से एक भाजपा का सदस्य है। मोदी भक्तों कुछ तो सोचो।’ साथ ही दिग्विजय सिंह ने अपने ट्वीट के साथ अखबारों की कुछ कटिंग को भी शेयर की हैं।

पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी ISI का एजेंट निकला

गौरतलब है कि दिग्विजय पूर्व में हिंदूवादी संगठनों से संबंद्ध लोगों पर भी आतंकी गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगाते रहे हैं। एक बार फिर से अपने इस ट्वीट के जरिए दिग्विजय ने (हिंदूवादी संगठन) को घेरने की कोशिश की है,

दरअसल, मध्य प्रदेश पुलिस के एटीएस ने कथित तौर पर पाकिस्तान से संचालित सामरिक महत्व के स्थानों की जासूसी करने वाले गिरोह के 11 सदस्यों को धर दबोचा है। एटीएस प्रमुख संजीव शमी ने संवाददाताओं को बताया, ‘‘पाकिस्तान से संचालित जासूसी और हवाला कारोबार से जुड़े सतना के बलराम सहित ग्वालियर से पांच, भोपाल से तीन और जबलपुर से दो लोगों को पकड़ा गया है,’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here