हिन्दू-मुस्लिम के बीच नफरत फैलाने वाले पोस्ट देखकर IPS ने छोड़ा फेसबुक, बोले- ‘पूरी सोशल मीडिया नफरत और घृणा से भरा पड़ा है’

0

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) को लेकर इन दिनों दिल्ली, उत्तर प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, पश्चिम बंगाल, असम, बिहार समेत देश के कई राज्यों में जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहे है। इस बीच, कई ऐसे तत्व भी हैं जो हिंदू और मुसलमानों के बीच नफरत फैलाने के लिए सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाल रहे हैं। सोशल मीडिया पर हिन्दू बनाम मुसलमान को लेकर कई पोस्ट बहुत वायरल हुए हैं। जिसके कारण दोनों धर्म के बीच एक दीवार बन गई है। इस बीच, ऐसे पोस्ट से परेशान होकर गुजरात कैडर के आईपीएस अधिकारी विजय वर्धन ने फेसबुक छोड़ने का फैसला कर लिया है। फेसबुक छोड़ने की जानकारी उन्होंने एक पोस्ट शेयर करके दी है।

हिन्दू-मुस्लिम

आईपीएस अधिकारी विजय वर्धन ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा, “पूरी सोशल मीडिया हिन्दू-मुस्लिम, हम-तुम, भारत-पाकिस्तान, अपने-गैर, कश्मीर-बंगाल, हिंसा, नफ़रत एवं घृणा इत्यादि से भरा पड़ा है। जब भी खोल के देखता हूं सब और बस सिर्फ नफ़रत और व्हाट्सएप ज्ञान दिखता है। इस “विरोध के फैशन” के दौर में एक छोटा सा विरोध मेरा भी-यही समय है फेसबुक त्यागने का। जब कोई “सोशल” बचा ही नहीं तो वो केसी मीडिया।”

आईपीएस अधिकारी ने अपने पोस्ट में आगे लिखा, “एक ही बात कहनी थी, ये सिर्फ वोटों की बंदरबांट है जो सामाजिक-धार्मिक-व्यक्तिगत फूट डालो राज करो नीति पर आधारित है। पर पता है हम भारतीय नहीं समझेंगे। चलिए आप चालू रखिए यही सब, अपुन चलता है। फिर मिलेंगे जब मन मानेगा। अभी जीवन में कुछ सकारत्मकता और प्रेम चाहिए जो सोशल मीडिया में रत्ती भर भी बची नहीं। अपने असली जीवन में खोजता हूँ शायद वहाँ मिल जाए। जय हिंद। अपना ख्याल रखना भारत।”

बता दें कि, आईपीएस अधिकारी विजय वर्धन ने अपने पोस्ट में नागरिकता संशोधन कानून के बारे में कुछ नहीं लिखा है। विजय वर्धन ने साल 2018 में यूपीएससी की परीक्षा में 104 रैंक हासिल किया था जिसके बाद वह IPS बने। बता दें कि, विजय वर्धन 35 से ज्यादा एग्जाम में फेल हो चुके हैं। वह हरियाणा के सिरसा जिले के रहने वाले हैं। वर्तमान में वह गुजरात कैडर के IPS हैं।

पूरी सोशल मीडिया हिन्दू-मुस्लिम, हम-तुम, भारत-पाकिस्तान, अपने-गैर, कश्मीर-बंगाल, हिंसा, नफ़रत एवं घृणा इत्यादि से भरा पड़ा…

Posted by Vijay Wardhan Sarswat on Friday, December 20, 2019

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here