VIDEO: उन्नाव जेल में बंद अपराधियों ने लहराई बंदूक, शराब पीते हुए भी कैमरे में हुए कैद

0

उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले की जेल में सजा काट रहे अपराधियों के कुछ वीडियो सामने आए है, जो अब सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं। इन वीडियो में अपराधी फिल्मी अंदाज में खड़े होकर तमंचा लहराते हुए नजर आ रहे हैं। इसके अलावा बैरक में खाने-पीने की चीजें भी दिख रही हैं, वीडियो में कैदी शराब पीने की बात भी कर रहे हैं।

उन्नाव

वायरल वीडियो में अपराधी खुलेआम प्रदेश सरकार को चुनौती देते हुए यह कहते नजर आ रहे हैं कि मेरठ जेल हो या फिर उन्नाव, वे प्रदेश की किसी भी जेल को कार्यालय बना देंगे। उनमें से एक कैदी कह रहा है जो बोलेगा मार दिया जाएगा। वे अपने पास तमंचों के साथ ही मोबाइल को भी दिखाते नजर आ रहे हैं। वीडियो में बदमाश के पास असलहा है और वह वीडियो में धमकी देता नजर आ रहा है कि वह कहीं भी किसी को मार सकता है।

जेल के अंदर असलहा लहराते और बैरिक में पार्टी मनाते बंदियों का वीडियो वायरल होने से अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। बुधवार शाम डीएम देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, एसपी माधव प्रसाद वर्मा, एडीएम राकेश कुमार सिंह, एएसपी विनोद कुमार पाण्डेय, सीओ सिटी उमेश चंद्र त्यागी समेत आधा दर्जन अधिकारी जिला जेल पहुंच कर चप्पा-चप्पा खंगाला।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गृह विभाग का दावा है कि वीडियो में दिखाया गया बंदूक मिट्टी का है। साथ ही पार्टी में जो सामान दिख रहा है, उसमें कुछ भी आपत्तिजनक नहीं है। जेल मैन्युअल के मुताबिक, कैदियों को माचिस तक रखने पर पाबंदी है। ऐसे में खाने की प्लेटें, शराब की बोतले वहां कैसे पहुंची इस पर अफसर चुप्पी साधे हैं।

गृह विभाग के मुताबिक, शुरुआती जांच में उन्नाव जेल के हेड वार्डन माता प्रसाद, हेमराज, वार्डन अवधेश साहू व सलीम की संलिप्तता सामने आई है। चारों के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं। यह निर्देश उन्नाव जिला जेल अधीक्षक द्वारा डीजी जेल को भेजी गई रिपोर्ट के आधार पर दिए गए हैं।

अपर पुलिस महानिदेशक (कारागार) आनन्द कुमार ने इसे गम्भीर विषय बताते हुए कहा कि मामले की जांच में पता चला है कि जेल में कुछ कर्मचारियों की मदद से जेल प्रशासन पर दबाव बनाने के लिये यह घटना अंजाम दी गयी है। उन्होंने बताया कि इस मामले में जेल के हेड वार्डर माता प्रसाद, हेमराज, जेल वार्डर अवधेश साहू और सलीम खां की मिलीभगत पायी गयी है और उनके खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here