कानपुर के पास इंदौर-पटना एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त, हादसे में अब तक 63 लोगों की मौत

0

पटना-इंदौर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे रविवार (20 नवंबर) की सुबह पटरी से उतर गए। ट्रेन की 14 बोगी कानपुर के पास पुखरायां में पटरी से उतर गई। हादसे में अब तक 63 लोगों की मौत हो गई है। करीब 150 लोग इस हादसे में घायल हुए हैं।

यूपी एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) दलजीत सिंह चौधरी और आईजी कानपुर जकी अहमद ने इसकी पुष्टि की है। ट्रेन इंदौर से पटना जा रही थी। कई यात्री अब भी बोगियों में फंसे हुए हैं, जिन्हें सुरक्षित निकालने का काम तेजी से चल रहा है। रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा हालाज का जायजा लेने के लिए घटनास्थल के लिए रवाना हो गए हैं।

Also Read:  अजमेर-सियालदह एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतरे, 2 लोगों की मौत, कई घायल
Photo courtesy: ANI
Photo courtesy: ANI

जनसत्ता की खबर के अनुसार, रेलवे बोर्ड के चेयरमैन और बोर्ड के सदस्यों को भी घटनास्थल का जायजा लेने के निर्देश दिए गए हैं। वहीं दर्जनों लोग घायल बताए जा रहे हैं। सबसे ज्यादा मौते S1 और S2 में हुई हैं।

यह हादसा कानपुर के पास पुखराया में हुआ। घटना सुबह तीन बजे की बताई जा रही है। यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डीजीपी को हालात पर नजर रखने का आदेश दिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री ने भी इसपर शोक जताया था।

Also Read:  राधिका आप्टे दिखी नये अवतार में, तस्वीरों में दिखीं बोल्ड एंड ब्यूटिफुल
Photo courtesy: ANI
Photo courtesy: ANI

सुरेश प्रभु ने हादसे की जांच के आदेश दे दिए थे। रेलवे की तरफ से कुछ हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए गए हैं। अब बचाव कार्य में भी तेजी नजर आ रही है लेकिन हादसे के तुरंत बाद राहत कार्य ना मिलने से हालात बिगड़ गए। बताया जा रहा है कि S1 और S2 कोच में और लोग फंसे हो सकते हैं। एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंच चुकी है।

Also Read:  सुप्रीम कोर्ट ने नोटबंदी पर मोदी सरकार से पूछा- क्यों नहीं दिया 31 मार्च तक पुराने नोट जमा करने का मौका
Photo courtesy: ANI
Photo courtesy: ANI

रेलवे ने यात्रियों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं. सुरेश प्रभु ने ये हेल्पलाइन नंबर ट्वीट किए हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here