नोटबंदी के बाद भारत की जीडीपी में आएगी गिरावट : एचएसबीसी रिर्पोट

0

वैश्विक वित्तीय सेवा कंपनी एचएसबीसी की एक रिर्पोट में कहा गया है कि नोटबंदी के बाद अगले 12 महीने में भारत की आर्थिक वृद्धि दर में एक प्रतिशत तक की गिरावट आ सकती और दीर्घकालिक फायदे भी बाद के सुधारात्मक कदमों पर निर्भर करते हैं।

Also Read:  शिवपाल यादव से विभाग वापस लिये जाने पर रामगोपाल यादव ने कहा- "कहीं से एक्शन शुरू होता है, तो उसका रिएक्शन होता है"
Congress advt 2

एचएसबीसी
भाषा की खबर के अनुसार, रिर्पोट के अनुसार फिलहाल नोटबंदी का मिला जुला असर देखने को मिलेगा जिसमें ‘कुछ फायदे तो कुछ नुकसान’ शामिल हैं। भारत सरकार ने 500 व 1000 रुपये के मौजूदा नोटों का परिचालन 8 नवंबर से बंद कर दिया है जिससे बाजार में नोटों की कमी देखने को मिल रही है।

Also Read:  वीडियो: अखिलेश और राहुल की सयुंक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में पत्रकार की हुई फजीहत, नम्बर 1 और 2 को लेकर हुई बहस

एचएसबीसी ने अनुसंधान पत्र में कहा है कि मुद्रा आपूर्ति में संकुचन के कारण आर्थिक वृद्धि दर 0.7-1.0 प्रतिशत घट सकती है और सबसे अधिक असर तात्कालिक दो तिमाहियों में नजर आएगा।

Also Read:  पश्चिम बंगाल के DGP ने न्यायमूर्ति कर्णन को सौंपा जमानती वारंट, न्यायाधीश ने ठुकराया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here