अमेरिका में भारतीय सिख छात्र की गोली मारकर हत्या, एक गिरफ्तार

0

अमेरिका में भारतीयों पर हमले लगातार बढ़ते ही जा रहे है यह सिलसिला थमने का नाम ही नही ले रहा है, जिसका ताजा मामला एक बार फिर से देखने को मिला है। न्यूज़ एजेंसी आईएएनएस की ख़बर के मुताबिक, अमेरिका के कैलिफॉर्निया राज्य में एक किराने की दुकान पर दो हथियारबंद बदमाशों ने एक भारतीय छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या में शामिल एक बदमाश कथित रूप से भारतीय मूल का बताया जा रहा है।

द फ्रेस्नो बी की खबर के मुताबिक, घटना सोमवार रात की है जब 20 वर्षीय धरमजीत सिंह जस्सर मदीरा शहर में गैस स्टेशन से आगे टैक्ल बॉक्स स्टोर में ड्यूटी कर रहा था। सदिग्ध स्टोर में लूट के इरादे से घुसे और एक बदमाश ने जस्सर पर एक के बाद एक कई गोलियां चलाई। जस्सर खुद को बचाने के लिए कैश काउंटर के पीछे छुपने का प्रयास कर रहा था।’

रिपोर्ट में कहा गया है कि, पुलिस ने कहा कि घटना को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए और अपने साथ नकदी, सिगरेट की कुछ डिब्बियां और कुछ बक्से ले गए। घटना की सूचना एक ग्राहक ने पुलिस को दी, ग्राहक मंगलवार सुबह दुकान में कुछ सामान लेने के लिए गया था जहां उसने जस्सर का शव जमीन पर पड़ा देखा।

जस्सर मूल रुप से पंजाब का रहने वाला है और वह अकाउंट का छात्र था, वह छात्र वीजा पर तीन साल पहले अमेरिका गया था। पुलिस ने जस्सर की हत्या मामले में भारतीय मूल के एक 21 वर्षीय अर्मितराज सिंह अठवाल को हिरासत में लिया है। माना जा रहा है कि इसी युवक ने जस्सर पर गोलियां बरसाईं थी।

इसी बीच विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा है कि सरकार अमेरिका के कैलिफोर्निया में भारतीय छात्र की हत्‍या की “दुर्भाग्यपूर्ण” घटना पर नजर बनाए हुए है और मृतक के परिवार को सभी मदद मुहैया करा रही है।

सुषमा स्वराज ने कई ट्वीट करते हुए कहा कि कैलिफोर्निया में एक भारतीय छात्र जस्‍सर की दुर्भाग्यपूर्ण हुई मौत पर मुझे एक विस्तृत रिपोर्ट मिली है। यह एक गैस स्टेशन पर हुई सशस्त्र लूट का मामला है, जिसमें धरमप्रीत की गोली मारकर हत्‍या कर दी गई। धरमप्रीत यहां काम किया करता था।

उन्होंने कहा, पुलिस ने भारतीय मूल के एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है। हम पुलिस द्वारा की जा रही जांच पर नजर बनाए हुए हैं और मृतक के परिवार को सभी मदद दी जाएगी।

वहीं घटना पर दुख जताते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया है और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को इस मामले को अमेरिका के उच्च विभाग में उठाने की बात की और परिवार के न्याय की मांग की है।

आपको बता दें कि इससे पहले अमेरिका के कंसास राज्य में भारतीय मूल के डॉक्टर अच्युता रेड्डी की चाकूओं से गोदकर हत्या कर दी गई। 57 साल के डॉक्टर अच्युता रेड्डी तेलंगाना के रहने वाले थे और वह अमेरिका के केंसास में एक जाने-माने साइकेट्रिस्ट(मनोरोग चिकित्सक) थे। अमेरिकी पुलिस ने इस मामले में एक 21 साल के युवक को गिरफ्तार किया था। संदिग्ध का नाम उमर राशिद है, जो डॉ. रेड्डी का ही मरीज था।

इससे पहले 22 फरवरी को कांसास में 32 वर्षीय भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोटला की हत्‍या करते समय हत्‍यारा चिल्‍ला रहा था गेट आउट ऑफ माय कंट्री। भारतीय इंजीनियर पर हमले के समय बचाव करने आए एक अन्‍य भारतीय आलोक मादासानी और एक अमेरिकी व्‍यक्ति इयान ग्रलियट भी घायल हो गई थे। इस हमल के बाद हत्‍यारे एडम पुर्रिंटन को हत्‍या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here