हिमालय में भारतीय सेना को नजर आए हिममानव ‘येति’ के रहस्यमय पैरों के निशान, जानें इससे जुड़ी खास बातें

0

क्या धरती पर इस वक्त हिम मानव या येती का वाकई में अस्तित्व है? महामानव की मौजूदगी का सालों पुराना सवाल एक बार फिर चर्चा में है। जी हां, क्योंकि भारतीय सेना ने दावा किया है कि एक अभियान दल ने हिमालय के मकालू बेस कैंप के पास मायावी हिम मानव ‘येति’ के रहस्यमय पैरों के निशान को देखा है। सेना ने ट्विटर पर कुछ तस्वीरें भी शेयर की हैं, जिसमें पैरों के कुछ निशान देखे जा सकते हैं।

सेना का दावा है कि ये निशान आकार में 32×15 इंच तक के हैं, जो अपने आप में असामान्य हैं। इसके माध्यम से भारतीय सेना ने हिमालय में हिममानव की मौजूदगी के संकेत दिए हैं। सेना के अतिरिक्त सूचना महानिदेशालय ने सोमवार को ट्वीट किया, “पहली बार, भारतीय सेना के पर्वतारोहण अभियान दल ने मकालू बेस कैंप के करीब हिममानव ‘येति’ के रहस्यमयी पैरों के निशान देखे हैं।” इसने कहा, “इस मायावी हिममानव को इससे पहले सिर्फ मकालू-बरुन नेशनल पार्क में देखा गया है।”

येति के अस्तित्व को लेकर पहले भी कई बार चर्चा हो चुकी है। कहा जाता है कि ‘हिम मानव’ (येति) एक वानर जैसा प्राणी है, जो औसत मानव से बहुत अधिक लंबा और बड़ा है। येति की सबसे ज्यादा चर्चा भारत, नेपाल और तिब्बत के बर्फीले क्षेत्रों में होती रहती है। येति नाम से प्रसिद्ध इस ‘हिममानव’ को सैकड़ों लोगों द्वारा देखे जाने का दावा किया जाता रहा है। जानकारों के मुताबिक, यह मोटे फर में ढका हुआ होता है और माना जाता है कि यह हिमालय, साइबेरिया, मध्य और पूर्वी एशिया में रहता है।

इस प्राणी को आमतौर पर एक किंवदंती के रूप में माना जाता है, क्योंकि इसके अस्तित्व का कोई ठोस सबूत नहीं है।मकालू-बरुन राष्ट्रीय उद्यान नेपाल के लिंबुवान हिमालय क्षेत्र में स्थित है। यह दुनिया का एकमात्र संरक्षित क्षेत्र है जिसमें 26,000 फुट से अधिक उष्णकटिबंधीय वन के साथ-साथ बर्फ से ढकी चोटियां हैं। येति हिमालय में रहने वाला सबसे रहस्यमयी प्राणी है। अब भारतीय सेना के ट्वीट पर खूब रिएक्शन आ रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here