इंडिया टुडे के एंकर ने मिग 21 के मलबे को दिखाते हुए एफ 16 होने का किया दावा, रक्षा विशेषज्ञ ने लाइव टीवी पर करवाया सुधार, देखिए कैसे शर्मिंदा हुए पत्रकार

0

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद से पाकिस्तान के साथ युद्ध के लिए उन्माद पैदा करने में हमारे ‘देशभक्त’ भारतीय टीवी एंकरों ने सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। आरएसएस और बीजेपी के कथित समर्थक कहे जाने वाले समाचार चैनलों जैसे अर्नब गोस्वामी के रिपब्लिक टीवी, टाइम्स नाउ और जी न्यूज के एंकरों ने आतंकी हमले के नाकामी के लिए केंद्र की वर्तमान सरकार पर सवाल नहीं उठाए, बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का महिमामंडन करते हुए दिखाई दिए। इन चैनलों ने अपनी तरफ से पूरी कोशिश कि की पाक के साथ जारी विवाद किसी भी तरह से शांत ना हो, ताकी वे अपने स्टूडियो में चिल्लाते रहें।

राहुल कंवल

गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फेंस के दौरान एक महत्वपूर्ण बयान में भारतीय वायु सेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक के दौरान आतंकियों के मारे जाने की संख्या को लेकर टीवी चैनलों द्वारा किए गए दावों का खंडन किया। बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के ठिकाने को निशाना बनाने के बाद नुकसान के बारे में एक सवाल के जवाब में भारतीय वायु सेना के एबीएम आर जी के कपूर ने कहा कि हमारे पास साक्ष्य हैं कि जो करना चाहते थे, जो लक्ष्य था, हमने उसे हासिल किया है।

बता दें कि रिपब्लिक टीवी, टाइम्स नाउ सहित तमाम अंग्रेजी-हिंदी न्यूज चैनलों ने सरकारी सूत्रों के हवाले से दावा किया था कि भारतीय जवानों ने मंगलवार को तड़के बड़ी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सबसे बड़े शिविर को तबाह कर दिया, जिसमें 300 से अधिक की संख्या में आतंकवादी और उनके प्रशिक्षक मारे गए। हालांकि, भारत सरकार ने हताहतों के दावों पर कोई टिप्पणी नहीं की थी। अब वायुसेना का यह बयान बीजेपी समर्थक चैनलों के एंकरों को लिए शर्मसार करने वाला है।

एवीएम कपूर ने कहा कि पाकिस्तान वायुसेना के विमानों ने हमारे सैन्य प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने की कोशिश की लेकिन उससे हमारे किसी भी रक्षा प्रतिष्ठान को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने झूठ बोला कि एफ-16 का इस्तेमाल नहीं किया गया, जबकि इस बात के पर्याप्त प्रमाण है। पाकिस्तान के पास केवल एफ..16 ही ऐसा विमान है जिसमें एमरॉन मिसाइल लगाया जा सकता है और एमरॉन मिसाइल के टुकड़े राजौरी के पूरब में भारतीय क्षेत्र में मिले हैं। इसके अलावा विमान के इलेक्ट्रानिक सिग्नेचर के मिलान से भी इसकी पुष्ठि हुई है।

बता दें कि बुधवार को भारतीय वायुसेना और पकिस्तान वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच झड़प के दौरान भारतीय लड़ाकू विमान मिग 21 के गिरने के दौरान पायलट अभिनंदन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में उतर गए थे। माना जा रहा है कि विंग कमांडर ने अपने विमान के गिरने से पहले पाकिस्तान के एफ- 16 को मार गिराया था। इसके एक दिन पहले, भारतीय वायुसेना ने मंगलवार सुबह पाकिस्तान के बालाकोट में जैश ए मोहम्मद के प्रशिक्षण शिविर पर बम गिराए थे।

इंडिया टुडे के एंकर राहुल कंवल हुए शर्मिंदा

27 फरवरी को एलओसी पर भारतीय वायुसेना और पकिस्तानी वायुसेना के लड़ाकू विमानों के बीच हुई झड़पों का विश्लेषण करने और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा विंग कमांडर अभिनंदन को रिहा करने की घोषणा को लेकर इंडिया टुडे पर चर्चा के दौरान एंकर राहुल कंवल को शर्मिंदा होना पड़ा। लाइव डिबेट के दौरान राहुल कंवल ने ऐसा दावा किया कि उनके कार्यक्रम में मौजूद पैनलिस्ट भी हैरान रह गए।

लाइव प्रसारण के कुछ मिनट बाद ही राहुल द्वारा दिखाए गए वीडियो क्लिप में तथ्यात्मक गलतियों को रक्षा विश्लेषक अभिजीत अय्यर-मित्रा द्वारा सुधार करवाया गया। दरअसल, दो तस्वीरों को दिखाते हुए उन्होंने दावा किया कि यह पाकिस्तानी F16 जेट की तस्वीर है, जिसे भारत ने नष्ट कर दिया है। राहुल ने कहा कि मैं अब आपको दिखा रहा हूं, यह पाकिस्तानी F-16 का मलबे हैं और पाकिस्तान इसे लेकर झूठ बोल रहा है।

हालांकि, फौरन लाइव टीवी पर ही अय्यर-मित्रा ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि यह पूरी तरह से सही है। इंडिया टुडे के स्टूडियो की तरफ दिखाते हुए मित्रा ने कहा कि यह वास्तव में मिग 21 का हिस्सा है, क्योंकि यहां जो इंजन दिखाया गया है वह GE F100 है। यह प्रकरण हर पत्रकार के लिए एक सबक है कि भावनाओं को कभी भी पत्रकारिता की नैतिकता पर हावी नहीं होने देना चाहिए, क्योंकि जब ऐसा होता है, तो इससे संबंधित पत्रकार को काफी शर्मिंदगी होती है।

देखिए, लोगों की प्रतिक्रियाएं:

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here