अगर जम्मू-कश्मीर में खून-खराबा रोकना है तो पाकिस्तान से बातचीत जरूरी: CM महबूबा मुफ्ती

0

जम्मू-कश्मीर के श्रीनगर के कर्ण नगर इलाके में सीआरपीएफ के कैंप पर सोमवार (12 फरवरी) सुबह आतंकी हमले की साजिश नाकाम किए जाने के बाद से सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ चल रही है। अधिकारियों ने बताया कि शहर के बीचोंबीच इलाके में चल रही इस मुठभेड़ में सीआरपीएफ का एक जवान शहीद हो गया।

File Photo: PTI

बता दें कि दो दिन पहले ही जम्मू के सुंजवान इलाके में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने सेना के शिविर पर हमला कर दिया था, जिसमें पांच सैनिकों सहित कुल छह लोग मारे गए थे। लगातार हो रही हिंसा और खून खराबे को रोकने के लिए जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान से बातचीत जरूरी बताई है।

मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने सोमवार को भारत-पाकिस्तान वार्ता की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि टीवी चैनलों द्वारा उनकी इस अपील को ‘राष्ट्र विरोधी’ करार दिया जाएगा। महबूबा ने ट्वीट किया, “अगर हम (राज्य में) खून खराबे को बंद करना चाहते हैं तो पाकिस्तान के साथ बातचीत करना जरूरी है।”

उन्होंने कहा, “मुझे पता है कि आज रात समाचार प्रस्तोताओं (न्यूज एंकर) द्वारा मुझे राष्ट्र विरोधी बताया जाएगा, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। जम्मू और कश्मीर के लोग खामियाजा भुगत रहे हैं। हमें बात करनी चाहिए क्योंकि युद्ध कोई विकल्प नहीं है।”

मुख्यमंत्री की यह अपील राज्य में आतंकवादी गतिविधियों के बढ़ने के साथ ही भारतीय और पाकिस्तानी सेनाओं के बीच सीमा पर लगातार जारी संघर्ष के बीच आई है। बता दें कि महबूबा मुफ्ती इससे पहले भी कई मौकों पर पाकिस्तान के साथ बातचीत को लेकर वकालत कर चुकी हैं।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here