सीमा विवाद: चीन की धमकी पर जेटली का करारा जवाब, कहा- 1962 और आज के हालात में बहुत अंतर है

0

सिक्किम सीमा पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच जारी तनातनी की घटना के बाद चीन ने गुरुवार(29 जून) को भारत से सीमा विवाद पर बातचीत रोकने की धमकी तक दे डाली। साथ ही चीन ने कहा कि भारतीय सेना को 1962 की लड़ाई से ‘ऐतिहासिक सबक’ लेना चाहिए।GST

इस धमकी पर ‘आजतक’ के एक कार्यक्रम में शुक्रवार(30 जून) को रक्षा मंत्री अरुण जेटली ने चीन को करारा जवाब दिया है। जेटली ने कहा कि वर्ष 1962 के हालात और अब के हालात में बहुत फर्क है। साथ ही उन्होंने चीन के उस दावे को सिरे से खारिज किया, जिसमें कहा गया था कि भारतीय सैनिकों ने उसकी सीमा में प्रवेश किया था।

जेटली ने कहा कि भूटान ने बयान दिया है कि जहां चीन सड़क का निर्माण कर रहा है, वह जमीन भूटान की है और भूटान और भारत के बीच सुरक्षा संबंध हैं। इसलिए हमारी सेना वहां पर हैं। साथ ही चीन की तरफ से 1962 की याद दिलाने पर जेटली ने कहा कि 1962 के हालात अलग थे, और आज के हालात अलग हैं। हमें इस बात को समझना होगा।

जेटली के अलावा विदेश मंत्रालय ने 11 बिंदुओं के साथ चीन के उस झूठ को बेनकाब किया है, जिसमें उल्टे भारतीय जवानों पर ही सीमा उल्लंघन का आरोप लगाया गया था। विदेश मंत्रालय ने कहा कि चीनी विदेश मंत्रालय ने आरोप लगाया है कि 26 जून को सिक्किम सेक्टर में भारतीय सैनिकों ने उसकी सीमा में प्रवेश किया है।

इसके बाद से चीनी सरकार की ओर से इस बयान को बार-बार दोहराया गया है, जबकि सच्चाई कुछ और है। इस बीच भारत ने सिक्किम स्थित नाथू-ला दर्रे से होने वाली मानसरोवर यात्रा को भी भारत ने रद्द कर दिया है। चीन ने तीर्थयात्रियों के जत्थे को सीमा पर ही रोक दिया था।

गौरतलब है कि चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने गुरुवार को कहा कि, ‘हम भारत से सेना को अपनी सीमा में बुलाने का आग्रह कर रहे हैं। सिक्किम सीमा से सेना हटाने तक भारत से सीमा विवाद पर कोई बातचीत नहीं होगी।’ कंग ने कहा कि सिक्किम विवाद को सुलझाने के लिए यह पूर्व शर्त है। इसी के आधार पर आगे की बातचीत होगी। हालांकि, कूटनीतिक चैनल पर इसका कोई असर नहीं होगा।’

बता दें कि इससे पहले चीन ने सिक्किम में भारत के एक पुराने बंकर को बुलडोजर से गिरा दिया है। यह घटना भारत, चीन और भूटान से सीमा पर स्थित डोका ला जनरल इलाके में हुई। सूत्रों ने कहा कि भारतीय बंकर तोड़े जाने की घटना जून के पहले सप्ताह में सिक्किम के डोका ला इलाके में हुई, जिससे सिक्किम क्षेत्र में भारत-चीन सीमा पर तनाव पैदा हो गया है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here