गृह मंत्रालय ने माना, नोटबंदी के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं में हुई वृद्धि, सीजफायर उल्लंघन में 300 फीसदी तक की हुई बढ़ोत्तरी

0

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने माना कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के द्वारा की गई नोटबंदी की घोषणा के बाद जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी घटनाओं की संख्या में वृद्धि हुई है।

गृह मंत्रालय
file photo

एक जवाब में राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में गृह मंत्रालय ने जम्मू एवं कश्मीर में आतंकवादी घटनाओं की संख्या का ब्यौरा देते हुए बताया कि 1 नवंबर 2016 से 31 अक्टूबर 2017 के बीच जम्मू-कश्मीर में 341 आतंकी घटनाएं हुईं, जबकि इससे पिछले साल 1 नवंबर 2015 से 31 अक्टूबर 2016 के बीच 311 आतंकी घटनाएं घटीं थीं।

Photo: Vijaita Singh (The Hindu)

गृह मंत्रालय ने यह भी बताया कि जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर युद्ध विराम के उल्लंघन में तेजी से बढ़ोत्तरी हुई है।2014 में सीजफायर उल्लंघन की संख्या सिर्फ 153 थी, लेकिन यह 10 दिसंबर 2017 तक पहुंच कर 771 हो गई। यह 2016 से 300% से अधिक वृद्धि थी।

हालांकि, गृह मंत्रालय ने दावा किया कि नोटबंदी के बाद उग्रवाद की घटनाओं की संख्या पिछले साल की अपेक्षा इस साल कमी आई। इसके पहले 1 नवंबर 2015 से 31 अक्टूबर 2016 के बीच 1078 उग्रवाद संबंधी घटनाएं हुईं थीं।

बता दें कि, मोदी सरकार ने दावा किया था कि नोटबंदी के बाद आतंकी घटनाएं और उग्रवाद की घटनाओं में कई आएंगी।गौरतलब है कि, पिछले साल 8 नवंबर 2016 को मोदी सरकार ने 500 और 1000 के नोटों पर बैन लगा दिया था।

Pizza Hut

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here