उत्तर प्रदेश: फर्रुखाबाद में बच्चों को बंधक बनाने वाले युवक की पत्नी को स्थानीय लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला

0

उत्तर प्रदेश में फर्रुखाबाद जिले के मोहम्मदाबाद कोतवाली क्षेत्र में 23 बच्चों को बंधक बनाने वाले बदमाश को पुलिस ने मार गिराया जबकि उसकी पत्नी को स्थानीय लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला। बता दें कि, इससे पहले आरोपी युवक को पुलिस ने 11 घंटे ऑपरेशन चलाकर मार डाला था। इसके बाद सभी 23 बच्चों को पुलिस ने सुरक्षित बचा लिया गया था।आरोपी युवक ने जन्मदिन मनाने के बहाने इन सभी बच्चों को दोपहर के वक्त बंधक बना लिया था। आरोपी शख्स की पहचान सुभाष बाथम के रूप में हुई थी।

फर्रुखाबाद
फोटो: NBT

एनडीटीवी की रिपोर्ट के मुताबिक, इस मामले में कानपुर के आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा, ”पुलिस के मुठभेड़ के वक्त महिला (आरोपी की पत्नी) भागने का प्रयास किया, और जब उसके पति (आरोपी) ने गोली चलाई तो आक्रोशित गांव के लोगों ने महिला को ईंट-पत्थर से मारा पीटा गया। उसे गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है, उसके सिर से खून निकल रहा था। महिला ने चोटों के कारण इलाज के समय दम तोड़ दिया। हम पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, अब यह पोस्टमार्टम से पता चलेगा कि उसकी मौत किन कारणों से हुई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सुभाष ने गुरुवार को अपने बच्चे के जन्मदिन के बहाने आस-पास के बच्चों को घर में बुलाया और फिर अपनी बीवी और बच्चे समेत सभी बच्चों को बेसमेंट में बंद कर दिया था। काफी देर तक बच्चों के घर नहीं लौटने पर पड़ोसी जब सुभाष के घर पहुंचे तो उसने फायरिंग कर दी। यह आरोपी हत्या का दोषी है और हाल ही में पैरोल पर बाहर आया था।

ख़बरों के मुताबिक, सुभाष ने साल 2001 में गांव के मेघनाथ बाथम की गोली मारकर हत्या कर दी थी। इस मामले में उसे आजीवन कारावास की सजा भी चुकी है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट से वह जमानत पर चल रहा था। तीन माह पूर्व वह चोरी में पकड़ गया था। डेढ़ माह पूर्व वह जेल से छूटकर घर आया था। पुलिस से पकड़वाने की रंजिश में गांव वालों को सबक सिखाने के लिए उसने जन्मदिन के नाम पर कल शाम बच्चों को अपने घर बुलाकर बंधक बनाया लिया था।

उत्‍तर प्रदेश के अतिरिक्त मुख्य सचिव और प्रमुख सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी के अनुसार, पुलिस ऑपरेशन के दौरान ड्रोन की मदद ली गई। बच्चों को बंधक बनाकर रखने वाले सुभाष बाथम को मार गिराया गया और सभी बच्चों को सुरक्षित निकाल लिया गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस की सफलता के लिए पुरस्कार देने का ऐलान किया है। ऑपरेशन में भाग लेने वाले सभी कर्मियों को प्रशंसा पत्र दिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here