भारत द्वारा एक पायलट के लापता होने की पुष्टि के बाद इमरान खान ने पीएम मोदी को दी युद्ध से दूर रहने की चेतावनी

0

14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच तनातनी जारी है। पाकिस्तानी सेना द्वारा दो भारतीय सैन्य विमानों को पाकिस्तानी वायुसीमा में मार गिराए जाने और दो पायलटों को गिरफ्तार किए जाने के दावों के कुछ घंटों बाद बुधवार (27 फरवरी) शाम भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस बात की पुष्टि की है कि भारत का एक मिग-21 लड़ाकू विमान भी क्षतिग्रस्त हुआ और एक पायलट भी लापता है।

इमरान खान

भारतीय विदेश मंत्रालय के बयान के बाद दोनों देशों के बीच बढ़ती तल्खी के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने पीएम नरेंद्र मोदी को युद्ध से दूर रहने की चेतावनी देते हुए भारत से बातचीत की बात कही है। उन्होंने कहा कि हम पुलवामा पर बात करने के लिए तैयार हैं। खान ने कहा कि हमने पहले भी कहा था और अब भी कह रहे हैं कि आप हमें सुबूत दें हम उसपर कार्रवाई करेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे लिए भी यह सही नहीं कि हमारी जमीन का इस्तेमाल आतंकवाद के लिए हो।

उन्होंने अपने भारतीय समकक्ष को चेतावनी दी कि वे भारत और पाकिस्तान दोनों के लिए विनाशकारी युद्ध न करें। पाक पीएम ने कहा कि जंग हुई तो यह किसी के काबू में नहीं करेगी। सीमा पर बढ़े तनाव के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि अगर युद्ध शुरू होता है तो यह मेरे या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काबू में नहीं होगा।

पाकिस्तानी पीएम ने कहा, ‘दुनिया के इतिहास में सभी लड़ाइयों को लेकर गलत अनुमान लगाया गया। जिन्होंने भी जंग शुरू की, वे नहीं जानते थे कि यह कहां जाकर खत्म होगी। इसलिए, मैं भारत से कहना चाहता हूं कि जो हथियार आपके पास हैं और मेरे पास हैं, तो क्या हम सोच सकते हैं कि अगर तनाव बढ़ता है तो गलत अनुमान को हम बर्दाश्त कर सकते हैं?’

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री खान ने कहा, ”हमने बुधवार को इसलिए इस पर कार्रवाई नहीं की, क्योंकि हमें कितना नुकसान हुआ यह पता नहीं था। लिहाजा हमने इंतजार किया और आज हमने उसका जवाब दिया।” पाक पीएम ने कहा, ”पाकिस्तान की कार्रवाई का जवाब देने भारत के दो मिग पाकिस्तानी सीमा में घुसे, जिन्हें मार गिराया गया। पायलट हमारे पास हैं। मैं हिन्दुस्तान से कहना चाहता हूं कि यह बहुत जरूरी है कि हम थोड़ा अक्ल का इस्तेमाल करें।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने की पायलट के लापता होने की पुष्टि

बता दें कि भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बुधवार को एक प्रेस कॉन्फेंस को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के हमले को नाकाम करते हुए बुधवार को उसके एक लड़ाकू विमान को मार गिराया, हालांकि इस हवाई कार्रवाई के दौरान एक भारतीय विमान भी क्षतिग्रस्त हो गया और उसके पायलट के बारे में फिलहाल कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है।

रवीश कुमार ने बताया कि पुलवामा में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल पर हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत ने मंगलवार को पाकिस्तान के बालाकोट स्थिति जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी शिविर को ध्वस्त करने की कार्रवाई की थी। उसके जवाब में पाकिस्तान ने बुधवार सुबह भारतीय वायु सीमा का उल्लंघन किया जिस पर कार्रवाई करते हुए वायु सेना ने उसका एक लड़ाकू विमान मार गिराया।

कुमार ने बताया कि इस कार्रवाई के दौरान वायुसेना ने एक मिग 21 विमान खो दिया जो पाकिस्तानी क्षेत्र में जाकर गिरा है। विमान का पायलट अभी भी लापता है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने दावा किया है कि पायलट उसके कब्जे में है। उन्होंने कहा कि उसके उसके बारे में जानकारी जुटाई जा रही है।

पाकिस्तान ने जारी शख्स का वीडियो

बता दें कि पाकिस्तानी सेना की ओर से जारी 46 सेकंड के एक वीडियो में आंखों पर पट्टी बांधे एक व्यक्ति नजर आ रहा है और दावा किया गया है कि यह व्यक्ति भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन हैं। वीडियो में व्यक्ति यह कहता नजर आ रहा है, ‘‘मैं भारतीय वायुसेना का एक अधिकारी हूं। मेरा सर्विस नंबर 27981 है।’’ हालांकि, वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं की जा सकी है।

पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने दावा किया कि भारतीय वायुसेना के दो पायलटों को गिरफ्तार किया गया है। एक पायलट घायल हुआ है और उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है जबकि दूसरे को कोई नुकसान नहीं हुआ है। प्रवक्ता ने गिरफ्तार पायलटों से मिली सामग्री और दस्तावेज भी दिखाए हैं। एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि एक विमान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में गिरा जबकि एक जम्मू कश्मीरा में गिरा है।

गफूर ने कहा, ‘‘पीएएफ के हमलों के बाद भारतीय वायुसेना के दो विमान पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र में घुस आए और पीएएफ ने उन्हें निशाने पर लिया और भारतीय वायुसेना के दोनों विमानों को मार गिराया। एक विमान का मलबा पाकिस्तान में (पाकिस्तान के कब्जे वाले क्षेत्र में) गिरा जबकि दूसरे का भारत के अंदर गिरा।’’  उन्होंने कहा, ‘‘वास्तविक निशाना सैन्य चौकियां और प्रशासनिक केंद्र थे जबकि हमने उन्हें निशाना नहीं बनाया।’’  प्रवक्ता ने दावा किया कि जनहानि नहीं हो इसलिए पीएएफ ने अपने लक्ष्य में बदलाव किया।

पीटीआई के मुताबिक, पाकिस्तानी जेट ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले के नौशेरा सेक्टर में भारतीय हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया लेकिन भारतीय विमानों ने उन्हें पीछे खदेड़ दिया। एक शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी।अधिकारी ने बताया कि बुधवार सुबह नौशेरा सेक्टर में भारतीय हवाई क्षेत्र में जेट घुसे लेकिन उन्हें भारतीय विमानों ने तत्काल उन्हें वापस खदेड़ दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here