IFFI के जूरी प्रमुख के पद से फिल्म निर्माता सुजॉय घोष ने दिया इस्तीफा

0

गोवा में आयोजित होने वाले इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल में कथित तौर पर दो फिल्मों को बाहर कर दिए जाने के बाद इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया(IFFI) के निर्णायक मंडल के प्रमुख व प्रसिद्ध फिल्म निर्माता सुजॉय घोष ने पद से इस्तीफा दे दिया है।

सुजॉय घोष
फाइल फोटो- सुजॉय घोष

जिन फिल्मों को बाहर किया गया है वह मलयाली फिल्म ‘एस दुर्गा’ और मराठी फिल्म ‘न्यूड’ है। ख़बरों के मुताबिक, गोवा में 20 से 28 नवंबर तक होने वाले इंटरनैशनल फिल्म फेस्टिवल ऑफ इंडिया के 48वें आयोजन में 13 सदस्यों की जूरी ने इन फिल्मों की सिफारिश की थी। लेकिन, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने फाइनल सलेक्शन से इन फिल्मों को हटा दिया है।

Also Read:  समाजवादी पार्टी ने घोषणापत्र में मुसलमानों को 18 प्रतिशत आरक्षण का वादा नहीं किया था-आज़म खान

यह पूछे जाने पर कि क्या फिल्मों को हटाए जाने के विवाद के चलते उन्होंने इस्तीफा दिया है, घोष ने कहा, हां, लेकिन फिलहाल मैं इस मसले पर बहुत कुछ नहीं कह सकता। मंत्रालय की ओर से इन फिल्मों को हटाए जाने का अधिकतर जूरी मेंबर्स ने विरोध किया है। ख़बरों के मुताबिक, एक जूरी मेंबर ने कहा, मंत्रालय की ओर से उठाया गया यह कदम अप्रत्याशित है।

Also Read:  Petition filed in Pak court seeking ban on Indian movies 'to express solidarity with Kashmiris'

दोनों फिल्मों के निर्देशकों ने पीटीआई को बताया कि वह मंत्रालय के इस फैसले से बेहद निराश और चकित हैं। एस दुर्गा के निर्देशक सनल कुमार शशिधरण ने कहा कि वह मंत्रालय द्वारा उठाए गए इस चालाकीपूर्ण कदम के खिलाफ अदालत जाएंगे।

Also Read:  एयर इंडिया में सफर करने वालों के लिए बुरी खबर, अब इकॉनमी क्लास के यात्रियों को नहीं मिलेगा नॉनवेज

साथ ही उन्होंने कहा कि, उन्हें महोत्सव शुरू होने से दो-तीन हफ्ते पहले सूची प्रकाशित करनी थी लेकिन उन्होंने जान बूझकर इसमें देरी की। वहीं न्यूड के निर्देशक रवि जाधव भी इस फैसले से निराश हैं।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here