चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामला: विकास बराला की गिरफ्तारी के एक महीने बाद वर्णिका कुंडू के पिता का ट्रांसफर

0

हरियाणा के भारतीय जनता पार्टी(बीजेपी) प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला और उसके दोस्त द्वारा चंडीगढ़ में आईएएस अधिकारी की बेटी वर्णिका कुंडू से छेड़छाड़ के मामले में करीब एक महीने बाद इसकी गाज अब वर्णिका कुंडू के पिता वी. एस. कुंडू पर गिरी है। राज्य के पर्यटन विभाग की जिम्मेदारी संभाल रहे वी. एस. कुंडू को अब अतिरिक्त मुख्य सचिव विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के रूप में तैनात किया गया है।

विकास बराला
file photo- indianexpress

बता दें कि, मंगलवार को चंडीगढ़ अदालत ने विकास बराला की जमानत याचिका को खारिज कर दिया था। अदालत ने कहा था कि आरोपी ने रोड साइड रोमियो की तरह हरकतें की हैं। उसने दूसरे आरोपी के साथ मिलकर शराब के नशे में अपराध किया है, इस आधार पर आरोपी को जमानत का लाभ नहीं दिया जा सकता। बता दें कि, इससे पहले 29 अगस्त को भी कोर्ट ने जमानत याचिका खारिज कर दी थी।

वहीं दूसरी और हरियाणा सरकार के इस कदम के बाद यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि अपनी बेटी वर्णिका कुंडू को न्याय दिलाने के लिए हरियाणा भाजपा प्रमुख सुभाष बराला के खिलाफ कुंडू का खड़ा होना तबादले की वजह हो सकती है।

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए कुंडू ने बताया कि, यह सरकार पर निर्भर करता है कि मेरी क्षमताओं को देखते है मुझे कहां नियुक्त करती है, मुझे इसमें कोई दिक्कत नहीं है। साथ ही उन्होंने कहा कि, मैंने कभी भी मेरे ट्रांसफर ऑर्डर रुकवाने की कोशिश नहीं की।

जानिए क्या है पूरा मामला? 

दरअसल, 4 और 5 अगस्त 2017 की रात करीब 12 बजे हरियाणा में आईएएस अधिकारी की बेटी वर्णिका कुंडू ने हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला पर छेड़छाड़ और पीछा करने का आरोप लगाया है। लड़की का आरोप है कि विकास बराला और उसका दोस्त आशीष कुमार एक पेट्रोल पंप से ही उनकी कार का पीछा कर रहे थे और कार का दरवाजा खोलने की कोशिश की।

पीड़ित लड़की का आरोप है कि उसके द्वारा कई बार फोन करने पर पुलिस वहां पहुंची और दोनों लड़कों को गिरफ्तार कर लिया। मगर गिरफ्तारी के कुछ घंटों बाद ही उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया। पीड़ित लड़की और उसके पिता (वरिष्ठ आईएएस) ने अपने फेसबुक पर पूरी घटना का ब्योरा पोस्ट किया था।

अपनी फेसबुक पोस्ट में पीड़ित युवती ने लिखा था, ‘ऐसा लग रहा है कि मैं सौभाग्यशाली हूं कि मैं आम आदमी की बेटी नहीं हूं… मैं इसलिए भी खुशकिस्मत हूं कि न तो मेरा रेप हुआ और न ही मैं मरी हुई पाई गई।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here