कश्मीर के हंदवाड़ा में कर्फ्यू के बाद तनाव बरक़रार, लड़की ने छेड़छाड़ से इनकार किया

0

कश्मीर के हंदवाड़ा कस्बे में सेना की गोलीबारी में दो युवकों के मारे जाने के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था। जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने आज रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर से हंदवाड़ा गोलीबारी मामले की जांच की मांग की। मामला भड़कनें की जो अहम वजह बताई जा रही है उसमें सेना के जवानों पर लड़की से छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए भीड़ ने प्रदर्शन किया था।

इसके बाद सेना ने भीड़ को खदेड़ने के लिए गो‍ली चलाई थी। इसमें दो युवक और एक महिला की मौत हो गई थी।

इधर, लड़की ने छेड़छाड़ से इनकार किया है। उसने दो स्थानीय युवकों पर यह साजिश रचने का आरोप लगाया। सेना ने इस संबंध में लड़की के बयान का वीडियो भी जारी किया है। वीडियो में लड़की कह रही है कि वह सहेली के साथ नजदीकी वाॅश रूम में गई थी। अचानक से एक युवक आया और उसका बैग लेकर भाग गया।

इसके बाद युवक ने लड़की को पुलिस थाने जाने से रोका। इसी बीच युवक ने नारे लगाए और हिंसा शुरू कर दी। गोलीबारी में मारे गए एक युवक को कुपवाड़ा में दफनाया गया।

प्रर्दशनों को रोकने के लिए हंदवाड़ा और आसपास के इलाकों में कर्फ्यू लगाना पड़ा जिससे इस तरह का माहौल आगे ना बढ़ सके। सेना और पुलिस ने युवकों की मौत पर खेद जताया है। साथ ही जांच के आदेश भी दिए हैं। सेना की ओर से जारी बयान में कहा गया कि उनकी पोस्ट को लगभग 500 लोगों ने घेर लिया था। भीड़ ने पोस्ट को जलाने की भी कोशिश की। मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर जांच की मांग करते हुए कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here