पुण्यतिथि पर राष्ट्रपिता का अपमान: हिंदू महासभा की नेता ने गांधीजी के पुतले में मारी ‘गोली’, नाथूराम गोडसे की मूर्ति पर माला पहनाकर मनाया जश्न

0

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर बुधवार यानी 30 जनवरी को जहां एक ओर पूरा देश उनके संघर्षों और विचारों को याद करते हुए श्रद्धांजलि दे रहा था, वहीं दूसरी ओर एक कथित हिंदूवादी संगठन का शर्मनाक कृत्य सामने आया है। उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में अखिल भारतीय हिंदू महासभा की एक नेता ने गांधीजी का सरेआम अपमान किया।  हिंदू महासभा की महिला नेता ने बापू के पुतले को गोली मारते हुए तस्वीरें खिंचवाईं, वहीं संगठन के कार्यकर्ताओं ने इस दौरान शौर्य दिवस मनाया। इस दौरान नाथूराम गोडसे की तस्वीर पर माल्यार्पण भी किया गया।

हिंदू महासभा की राष्ट्रीय सचिव पूजा शकुन पांडे ने महात्मा गांधी का पुतला बनाकर, उस पुतले पर गोली चलाई। इतना ही नहीं, इसके बाद हिंदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने नाथूराम गोडसे की मूर्ति पर माला चढ़ाकर जश्न मनाया। टाइम्स नाउ की रिपोर्ट के मुताबिक, शकुन पांडे ने महात्मा गांधी के पुतले पर नकली बंदूक से गोली चलाई, जिसके बाद पुतले से खून निकलता दिखाया गया। वीडियो में आवाज आ रही है, ”अभी मत चलाना, अभी फोटो सेशन चल रहा है।”

पुतले पर गोली चलाते हुए शकुन पांडे का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। मीडिया में आई खबरों के मुताबिक घटना उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर की है। वायरल वीडियो में हिदू महासभा के कार्यकर्ताओं ने महात्मा गांधी को नाथूराम गोडसे द्वारा गोली मारे जाने के दृश्य को प्रतीकात्मक रूप से दर्शाकर हत्या का जश्न मनाते हुए नजर आ रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, यही नहीं इस दौरान हिंदू महासभा की नेता ने गांधीजी के हत्यारे नाथूराम गोडसे की तुलना भगवान कृष्ण से की।

पूजा शकुन पांडे पहले भी विवादों में रही हैं। पिछले कुछ वर्षों के दौरान वह कई बार गोडसे की प्रतिमाओं और तस्वीरों पर फूल चढ़ाने के साथ उनका महिमामंडन कर चुकी हैं। वह गांधीजी की पुण्यतिथि को शौर्य दिवस के रूप में मनाते हुए मिठाइयां बांट चुकी हैं। महात्मा गांधी की 71वीं पुण्यतिथि के मौके पर बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और देश के कई बड़े नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। बता दें कि 30 जनवरी, 1948 को नई दिल्ली के बिड़ला हाउस परिसर में नाथूराम गोडसे ने गोली मारकर महात्मा गांधी की हत्या कर दी थी।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here