टीवी शो ‘फतेह का फतवा’ के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग पर HC ने सरकार से मांगा जवाब

0

दिल्ली हाईकोर्ट ने सोमवार(1 मई) को पाकिस्तानी मूल के कनाडाई लेखक तारिक फतेह के टीवी शो ‘फतेह का फतवा’ के प्रसारण पर रोक लगाने की मांग वाली याचिका पर केंद्र सरकार का जवाब मांगा है। दरअसल, शो बंद कराने की मांग को लेकर दाखिल एक याचिका में आरोप लगाया गया है कि यह कार्यक्रम दो समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा मिल रहा है।

इस मामले की सुनवाई करते हुए कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल व न्यायमूर्ति अनु मल्होत्र की पीठ ने कहा कि मामले से जुड़े सभी पक्ष चार हफ्ते के भीतर हलफनामा दाखिल करें। पीठ ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय से यह बताने को कहा कि याचिकाकर्ता के आरोपों में दम है या नहीं। मामले की अगली सुनवाई 19 सितंबर को होगी।

Also Read:  केजरीवाल सरकार ने दिया पीवी सिंधू को 2 करोड़ और साक्षी मलिक को 1 करोड़ रुपए का पुरस्कार

कोर्ट द्वारा चैनल से भी इस बारे में प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया है। बता दें कि इस याचिका में आरोप लगाया है कि टीवी शो को होस्ट करने वाले तारिक फतेह ने अपने शो के जरिए मुस्लिमों और गैर मुस्लिमों के बीच वैमनस्यता को फैलाते हैं। बता दें कि तारिक अपने विचारों के लिए हमेशा विवादों में रहे हैं।

Also Read:  स्विस कपल की पिटाई मामले पर अखिलेश ने पूछा- कहां है एंटी रोमियो स्क्वाड?

वहीं, दूसरी तरफ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ‘फतेह का फतवा’ शो को लेकर तारिक फतेह के खिलाफ उत्तर प्रदेश के खुर्जा कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज की गई है। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने तारिक पर विवादित टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए यह तहरीर दी थी।

Also Read:  राजनाथ सिंह बोले- BJP को यूपी में मुस्लिम उम्मीदवारों को भी देना चाहिए था टिकट

खुर्जा जामा मस्जिद पर जुम्मे की नमाज के बाद मुस्लिम समाज के लोगों की बैठक हुई थी। जिसके बाद कोतवाली पहुंचे मुस्लिम समाज के लोगों ने तारिक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवा दी। जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने बताया कि लोगों की तहरीर के आधार पर खुर्जा पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here