चंद्रयान-2 मिशन पर बोले कर्नाटक के पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी, ISRO केंद्र में पीएम मोदी के कदम पड़ना वैज्ञानिकों के लिए अपशगुन बन गया

0

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने गुरुवार को मैसूरु में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। प्रधानमंत्री पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि, इसरो मुख्यालय में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी ‘अशुभ’ साबित हुई होगी, जिसके कारण ‘चंद्रयान-2′ मिशन के लैंडर विक्रम की ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ असफल हो गई।

एच डी कुमारस्वामी
फाइल फोटो

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, मैसूर में मीडिया से बात करते हुए कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने कहा, “प्रधानमंत्री बेंगलुरु आए थे ताकि यह संदेश दिया जा सके कि वह खुद चंद्रयान-2 की लैंडिंग करा रहे थे, हमारे वैज्ञानिकों से 10-12 साल तक कड़ी मेहनत की है, वह केवल अपना प्रचार करने आए थे। जब उन्होंने इसरो केंद्र में कदम रखा, तो मुझे लगता है कि यह वैज्ञानिकों के लिए दुर्भाग्य बन गया।”

उल्लेखनीय है कि, ‘चंद्रयान-2′ मिशन को सात सितंबर को उस समय झटका लगा था कि जब ‘विक्रम’ लैंडर का पृथ्वी पर स्थित स्टेशन से संपर्क टूट जाने के कारण चंद्रमा की सतह पर योजना के मुताबिक ‘सॉफ्ट लैंडिंग’ नहीं हो पाई। भारत का महत्वाकांक्षी मिशन चंद्रयान शुक्रवार देर रात चांद से महज 2 किलोमीटर की दूरी पर आकर खो गया। चांद की सतह की ओर बढ़ा लैंडर विक्रम का चांद की सतह से 2.1 किलोमीटर पहले संपर्क टूट गया।

विक्रम की लैंडिंग के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु स्थित इसरो के मुख्यालय पर मौजूद थे। वैज्ञानिकों के अथक प्रयास को लेकर प्रधानमंत्री मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों से कहा कि हमें इस प्रयास और इस सफर दोनों पर गर्व है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here