जेटली की ओर से दायर ताजा मानहानि मामले में हाईकोर्ट ने केजरीवाल को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

0

दिल्ली हाई कोर्ट ने मंगलवार(23 मई) को केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली की ओर से दायर 10 करोड़ रुपये के ताजा मानहानि मामले में नोटिस जारी कर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से जवाब मांगा है। जेटली ने यह मामला केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी द्वारा हाल में कथित आपत्तिजनक शब्द इस्तेमाल किए जाने को लेकर दायर किया है।अरुण जेटलीसंयुक्त रजिस्ट्रार पंकज गुप्ता ने केजरीवाल को नोटिस जारी किया, जिसमें उनसे पूछा गया है कि उनके खिलाफ मानहानि की कार्यवाही क्यों नहीं शुरू की जानी चाहिए। अदालत ने मामले की अगली सुनवाई के लिए 26 जुलाई की तारीख निर्धारित कर दी। तब तक केजरीवाल को जवाब देना होगा।

बता दें कि वित्त एवं रक्षा मंत्री जेटली ने आम आदमी पार्टी के मुखिया तथा पार्टी के पांच अन्य पदाधिकारियों के खिलाफ मानहानि की कार्यवाही के दौरान खुली अदालत में जेठमलानी द्वारा अपने खिलाफ कथित गाली का इस्तेमाल किए जाने के बाद मानहानि का यह दूसरा मामला दायर किया है।

हाईकोर्ट में 17 मई को मंत्री से जिरह के दौरान जेठमलानी ने कुछ ऐसी बातें कही थीं, जिन्हें जेटली ने आपत्तिजनक पाया था। सुनवाई के दौरान उस वक्त अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई जब केजरीवाल की पैरवी कर रहे वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी ने जेटली के लिए ‘क्रुक’ (धूर्त) शब्द का इस्तेमाल कर दिया था।

इसके एक दिन बाद न्यायमूर्ति मनमोहन ने जिरह के दौरान संयुक्त रजिस्ट्रार के समक्ष जेठमलानी द्वारा जेटली के खिलाफ की गई टिप्पणियों को अपमानजनक करार दिया था। टिप्पणियों को लेकर जेटली की ओर से दूसरा वाद दायर किया गया। वाद में कहा गया कि केंद्रीय मंत्री की ईमानदार और स्वच्छ छवि रही है और उन्होंने अपनी पेशेवर कमाई जनसेवा के कई कार्यों में लगाई है।

जेठमलानी ने संयुक्त रजिस्ट्रार को बताया था कि उन्होंने कार्यवाही के दौरान जेटली के खिलाफ संबंधित टिप्पणियां केजरीवाल के निर्देश पर की थीं। हालांकि, केजरीवाल के लिए वकील ऑन रिकॉर्ड अनुपम श्रीवास्तव ने कहा था कि मुख्यमंत्री ने ऐसा कोई निर्देश नहीं दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here