हाईकोर्ट ने केजरीवाल से पूछा- जेटली से क्षमा मांग सकते हैं तो ‘ठुल्ला’ वाले बयान पर पुलिस से भी क्यों नहीं मांग लेते माफी?

0

दिल्ली पुलिस के जवानों को ‘ठुल्ला’ कहने के मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ दायर आपराधिक मानहानि के मुकदमे में हाई कोर्ट ने सवाल किया कि अगर मुख्यमंत्री वित्त मंत्री अरुण जेटली समेत अन्य लोगों से माफी मांग सकते हैं तो फिर पुलिसकर्मी को ठुल्ला कहने के मामले में माफी क्यों नहीं मांग सकते? हाईकोर्ट ने सोमवार (16 अप्रैल) को पूछा कि केजरीवाल पुलिसकर्मियों के लिए ‘ठुल्ला’ शब्द इस्तेमाल करने के लिए एक कॉन्स्टेबल से माफी क्यों नहीं मांग सकते हैं?

File Photo: PTI

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक, केजरीवाल की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए जस्टिस अनु मल्होत्रा ने कहा कि अगर केजरीवाल अपने बयानों के लिए अरुण जेटली और अन्य सभी से माफी मांग रहे हैं तो वह पुलिस अधिकारियों के साथ ऐसा करके मामले का हल क्यों नहीं निकाल सकते। इस पर केजरीवाल के वकील ने कहा कि वह इस पर केजरीवाल से बात करेंगे।

अदालत ने यह फैसला केजरीवाल की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए सुनाया, जिसमें एक कांस्टेबल द्वारा दाखिल आपराधिक मानहानि के मामले में उन्हें तलब करने के निचली अदालत के आदेश को रद्द करने की मांग की गई थी। इस मामले की अगली सुनवाई के लिए 29 मई की तारीख तय की गई है।

गौरतलब है कि मानहानि केस में दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (AAP) के संयोजक अरविंद केजरीवाल द्वारा माफी मांगने का सिलसिला जारी है। केजरीवाल ने पिछले कुछ दिनों में जेटली, पंजाब के नेता बिक्रम मजीठिया, पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल, नितिन गडकरी सहित और अन्य लोगों से उनके खिलाफ की गई अपनी टिप्पणियों के लिए माफी मांगी है।

बता दें कि केजरीवाल पर उत्तर प्रदेश, पंजाब, असम, महाराष्ट्र, गोवा में भी मानहानि व चुनाव आचार संहिता उल्लंघन के कई मामले दर्ज हैं। पिछले दिनों पार्टी प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने कहा था कि ये मुकदमे हमें कानूनी मामलों में उलझाए रखने के लिए दर्ज कराए गए हैं। इन सभी मामलों को आपसी सहमति से सुलझाने पर विचार चल रहा है।

केजरीवाल द्वारा बिक्रम मजीठिया से लिखित में माफी मांगने के मामले पर आम आदमी पार्टी की पंजाब इकाई में घमासान मच गया था। माफीनामे के बाद एक के बाद एक AAP के नेताओं द्वारा पार्टी से इस्तीफों की झड़ी लग गई थी। AAP के पंजाब प्रभारी और लोकसभा सांसद भगवंत मान ने प्रदेश अध्यक्ष पद और उपाध्यक्ष अमन अरोड़ा ने अपना पद छोड़ दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here