हरियाणा: कल दोपहर सीएम पद की शपथ लेंगे मनोहर लाल खट्टर, दुष्यंत चौटाला बनेंगे डिप्टी सीएम

0

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने दुष्यंत चौटाला नीत जननायक जनता पार्टी (जजपा) के समर्थन से शनिवार को हरियाणा में सरकार गठन का दावा पेश किया। इसके बाद राज्यपाल ने भाजपा को रविवार को सरकार बनाने का न्यौता दिया। राजभवन से न्यौता मिलने के बाद मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि वह रविवार को राजभवन में दोपहर सवा दो बजे मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। खट्टर ने बताया कि जजपा नेता दुष्यंत चौटाला उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करेंगे।

हरियाणा
फोटो: सोशल मीडिया

भाजपा सूत्रों के अनुसार केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, मनोहर लाल खट्टर और हरियाणा भाजपा के अध्यक्ष सुभाष बराला समेत भाजपा नेताओं ने राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य से मुलाकात कर सरकार गठन का दावा पेश किया। वहीं, जजपा नेता चौटाला ने भी राज्यपाल से मुलाकात कर उन्हें अपनी पार्टी का समर्थन पत्र सौंपा। जजपा ने सरकार गठन के लिए भाजपा को समर्थन दिया है। प्रसाद और भाजपा महासचिव अरुण सिंह पार्टी के केन्द्रीय पर्यवेक्षक के रूप में मुलाकात में शामिल थे। इस दौरान भाजपा को बिना शर्त समर्थन देने वाले कुछ निर्दलीय विधायक भी मौजूद रहे।

इससे पहले, खट्टर को हरियाणा में भाजपा के विधायक दल का नेता चुना गया। भाजपा ने दावा किया कि वह जजपा के समर्थन से हरियाणा में ’स्थिर और ईमानदार’ सरकार चलाएगी। उधर, खट्टर ने दोपहर बाद बताया कि हरियाणा के राज्यपाल सत्यदेव नारायण आर्य ने भाजपा को रविवार को सरकार बनाने का न्यौता दिया है। उन्होंने कहा कि वह हरियाणा राजभवन में रविवार को दोपहर सवा दो बजे मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेंगे। खट्टर ने बताया कि जजपा नेता दुष्यंत चौटाला उपमुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण करेंगे।

गौरतलब है कि भाजपा ने कहा है कि वह सरकार गठन के लिए विवादित नेता और सिरसा से विधायक गोपाल कांडा का समर्थन नहीं लेगी, जो आत्महत्या के लिये उकसाने के दो मामलों में आरोपी हैं। भाजपा का कहना है कि गोपाल कांडा को सरकार में शामिल किए जाने का सवाल ही नहीं बनता है। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने चंडीगढ में पत्रकारों को बताया, ‘‘मैं एक बात स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि भाजपा कांडा का समर्थन नहीं लेने जा रही है।’’

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक, खट्टर सरकार में मंत्री रहे अनिल विज का कहना है कि गोपाल कांडा को सरकार में शामिल करने का कोई सवाल ही नहीं है और न ही उनसे समर्थन लिया जा रहा है।

गौरतलब है कि, जजपा ने 90 सदस्यीय विधानसभा में 10 सीट हासिल की है। सत्तारूढ़ भाजपा ने उपमुख्यमंत्री का पद जजपा को देने की पेशकश की है। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को नई दिल्ली में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि मुख्यमंत्री उनकी पार्टी का होगा और उपमुख्यमंत्री का पद क्षेत्रीय पार्टी को दिया जाएगा। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here