कांग्रेस नेता विकास चौधरी की हत्या पर बोले सीएम मनोहर लाल खट्टर- वह एक बुरे चरित्र के व्यक्ति थे, ऐसे व्यक्ति के साथ कुछ भी हो सकता है

0

कांग्रेस नेता विकास चौधरी की हत्या मामले पर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने हैरान करने वाला बयान दिया है। दिनदहाड़े हुई इस हत्याकांड पर पत्रकारों के सवाल पर खट्टर ने कहा कि विकास चौधरी के खिलाफ 13 एफआईआर दर्ज थीं और वह एक बुरे चरित्र के व्यक्ति थे। सीएम ने कहा कि ऐसे व्यक्ति के साथ कुछ भी संभव हो सकता है। हालांकि, उन्होंने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

विकास चौधरी

बता दें कि हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता विकास चौधरी की गुरुवार को अज्ञात बदमाशों ने दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी। इस मामले में शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए सीएम खट्टर ने कहा, “उनके खिलाफ 13 एफआईआर दर्ज थीं और वह एक बुरे चरित्र के व्यक्ति घोषित थे, ऐसे व्यक्ति के साथ कुछ भी संभव हो सकता है, यह व्यक्तिगत दुश्मनी भी हो सकती है। पुलिस की टीमें बनाई गई हैं, दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।”

मुख्यमंत्री का यह बयान ऐसे समय आया है, जब इस हत्याकांड़ की घटना को लेकर फरीदाबाद के बीके अस्पताल के बाहर विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। विकास चौधरी की हत्या के विरोध में प्रदर्शन हो रहा है। बीके हॉस्पिटल के बाहर हरियाणा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर अपने समर्थकों के साथ प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग की है। इसी अस्पताल में विकास चौधरी का शव रखा गया है।

एसीपी जयबीर राठी के मुताबिक, चौधरी पर गुरुवार को हमला उस वक्त हुआ जब वह सेक्टर-9 स्थित पीएचसी जिम के बाहर अपनी गाड़ी को पार्क कर रहे थे। इस गोलीबारी में कांग्रेस नेता की मौके पर ही मौत हो गई। हमलावरों ने उनकी गाड़ी के दोनों तरफ से फायरिंग की। पुलिस के मुताबिक, घटना को अंजाम देने हमलावर सफेद रंग की गाड़ी में आए थे।

एसीपी ने गुरुवार को बताया कि घटनास्थल पर 12 गोलियों के खोखे मिले हैं वहीं सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में हमलावर दिखाई दे रहे हैं। राठी ने बताया कि मामले को देख कर लगता है कि हत्या की साजिश काफी पहले से रची गई थी। इतना ही नहीं, इसके लिए संभवत: रेकी भी की गई होगी क्योंकि विकास चौधरी के जिम आने की बात हत्यारों को पहले से पता थी।

चौधरी पर करीब 12 से 15 गोलियां दागी गईं। वह खुद गाड़ी चलाकर जिम पहुंचे थे, उनके साथ कोई नहीं था। गोलियां उनकी गर्दन, छाती पर मारी गईं। हत्या की यह पूरी वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई। गोलियों की आवाज सुनते ही जिम में मौजूद पृथला गांव के नवीन सिंह सेक्टर- 9 के कुछ दुकानदारों के सहयोग से चौधरी को सर्वोदय अस्पताल ले गए जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया।

पुलिस ने इस संबंध में हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस जिम के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों की मदद से अज्ञात हमलावरों की पहचान में जुट गई है। इसके अलावा हमलावरों की तलाश के लिए पुलिस की कई टीमें भी बनाई गई हैं। (इंपुट: भाषा के साथ)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here