नितिन पटेल की नाराजगी की रिपोर्ट के बाद बोले हार्दिक, 10 MLA के साथ छोड़ें BJP, कांग्रेस में दिलाऊंगा सम्मान

0

विजय रूपाणी ने गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में मंगलवार (26 दिसंबर) को शपथ ग्रहण की। कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बताया जा रहा है कि विजय रूपाणी की नई सरकार में वित्त मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय छिन जाने से उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल नाराज चल रहें है और उन्होंने इस्तीफे तक की धमकी दी है।

photo- Khabar IndiaTV

ख़बरों के मुताबिक, बताया जा रहा है कि कैबिनेट के कई मंत्री अपना कार्यभार संभाल चुके हैं, लेकिन नितिन पटेल ने अभी तक अपना कार्यभार नहीं संभाला है। इसी बीच पाटीदार नेता हर्दिक पटेल ने नितिन पटेल को बड़ा ऑफर दिया है। हार्दिक पटेल ने कहा है कि अगर बीजेपी में नितिन पटेल का सम्मान नहीं हो रहा है, तो वे कांग्रेस ज्वाइन कर सकते हैं।

न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, हार्दिक पटेल ने कहा है कि वे नितिन पटेल के लिए कांग्रेस पार्टी से बात करेंगे ताकि उन्हें सही जगह मिले और उनके साख पर कोई सवाल ना उठे। इतना ही नहीं साथ ही हार्दिक ने कहा कि अगर नितिन भाई 10 विधायकों के संग बीजेपी छोड़ने को तैयार हो जाते हैं, तो हम कांग्रेस में उन्हें उपयुक्त पद देने की बात करेंगे।

बता दें कि, कुछ मीडिया रिपोर्ट में दाबा किया जा रहा है कि राज्य के उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल वित्त मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय छिन जाने से खासे नाराज हैं और उन्होंने इस्तीफा देने की धमकी भी दी है। साथ ही बताया जा रहा है कि कैबिनेट के कई मंत्री अपना कार्यभार संभाल चुके हैं, लेकिन नितिन पटेल ने अभी तक अपना कार्यभार नहीं संभाला है।

ख़बरों के मुताबिक, गुजरात बीजेपी अध्यक्ष जीतू वाघाणी विवाद को सुलझाने में लगे हुए है। मुख्यमंत्री आवास पर बृहस्पतिवार को होने वाली बैठक में भी नितिन पटेल काफी देरी पहुंचे थे।

ख़बरों के मुताबिक, अभी तक नितिन पटेल और गुजरात में बीजेपी के किसी भी नेता की ओर से इस मामले में कोई बयान सामने नहीं आया है लेकिन सरकार बनने के कुछ दिन के अंदर ऐसी खबरें आने से अटकलों का बाजा गर्म है।

बता दें कि, नितिन पटेल इससे पहले भी राज्य के उपमुख्यमंत्री रहे हैं, पर इस बार राजस्व, शहरी और वित्त मंत्रालय उनसे छिन गया है। वित्त मंत्रालय नितिन पटेल के जूनियर सौरभ पटेल को दे दिया गया है और बाकी के दो मंत्रालय खुद सीएम विजय रूपाणी के पास हैं।

अब पटेल के पास मार्ग और मकान, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, नर्मदा, कल्पसर और राजधानी परियोजना जैसे विभाग हैं। इससे नितिन पटेल नाराज बताए जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here