हंदवाड़ा छेड़छाड़ पीड़िता के पिता ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप

0

श्रीनगर के हंदवाड़ा कस्बे में हुई छेड़छाड़ मामले में नया मोड़ आया है। मामले में पीड़ित लड़की के पिता ने कहा है कि जिस दिन उसकी बेटी का ये मामला हुआ उस दिन रात के एक बजे पुलिस ने उसे थाने बुलाया और कहा कि अपनी लड़की को यहां से ले जाओ।
handwara

लड़की का पिता अपनी साली के साथ वहां पहुंचा लेकिन पुलिस ने उसे भी बंद कर दिया।
बीबीसी के मुताबिक पीड़ित लड़की के पिता का आरोप है कि पुलिस ने उसका मोबाइल भी छीन लिया और घरवालों के साथ बात तक नहीं करने दी। रात भर उसे ठंडे फर्श पर रखा। उसकी बेटी को गालियां दीं, उस पर थूका और ज़लील किया।

लड़की के पिता ने आगे कहा, “हमे पुलिस से जान का ख़तरा है। पिछले 21 दिनों से पुलिस ने हमारी ज़िंदगी जहन्नुम बनाकर रख दी है। हम अपनी मर्ज़ी से कहीं नहीं जा पाते। बाहर जाने की कोशश करते हैं तो पुलिस जाने से रोक देती है, पीछे-पीछे आ जाती है। हम पुलिस प्रोटेक्शन में बिलकुल नहीं रहना चाहते। हम अपने घर में रहना चाहते हैं। हमें किसी से कोई ख़तरा नहीं है। अगर ख़तरा है तो पुलिस से। ये कभी भी हमें मार डालेंगे।”

पीड़ित लड़की के पिता ने आरोप लगाया कि उनकी बेटी अदालत में सारी सच्चाई बताना चाहती है, लेकिन पुलिस उसे कहीं भी जाने नहीं देती। उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी बेटी को दबाव में लेकर बयान दिलवाए। जब उनकी बेटी को चीफ़ जुडिशियल मजिस्ट्रेट के सामने बयान दिलवाने के लिए लाया गया तो उन्हे जज साहब के सामने जाने की इजाज़त नहीं दी गई। उत्तरी कश्मीर के पुलिस उप महानिरीक्षक उत्तम चंद ने इन आरोपों का खंडन किया है।

LEAVE A REPLY