प्रद्युम्न मर्डर केस: पिंटो परिवार को गिरफ्तारी से कल तक के लिए मिली राहत

0

गुरुग्राम के भोंडसी स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में दूसरी कक्षा के सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की बेरहमी से गला काटकर हत्या का मामले में बुधवार(13 सितंबर) को बॉम्बे हाई कोर्ट ने रयान इंटरनेशनल ग्रुप के अध्यक्ष और डायरेक्टर को गिरफ्तारी से कल(14 सितंबर) तक के लिए राहत दे ही है।

(Sanjeev Verma/HT Photo)

रयान इंटरनेशनल समूह के फाउंडर प्रेजिडेंट ऑगस्टिन पिंटो (73), ग्रुप की डायरेक्टर और उनकी पत्नी ग्रेस पिंटो (62) ने इस मामले में गिरफ्तारी के अंदेशे पर बंबई हाई कोर्ट से अग्रिम जमानत का अनुरोध किया था। दंपती के वकील ने कहा था कि ऑगस्टिन पिंटो और ग्रेस पिंटो के अलावा उनके बेटे और ग्रुप के सीईओ रायन पिंटो ने भी अग्रिम जमानत याचिका दायर की है।

इससे पहले मंगलवार(12 सितंबर) को भी हाई कोर्ट ने एक दिन की राहत दी थी। गिरफ्तारी से बचने के लिए रयान के मालिकों ने हाई कोर्ट में अर्जी दाखिल करके अग्रिम जमानत की मांग की है। बता दें कि प्रद्यूम्न की हत्या मामले में बस कंडक्टर को गिरफ्तार किया गया है।

इस बीच मंगलवार(12 सितंबर) को एक नया खुलासा हुआ है। डॉक्टर ने प्रद्युम्न ठाकुर के साथ किसी प्रकार के यौन शोषण किए जाने से इनकार किया है। यह जानकारी प्रद्युम्न के शव का पोस्टमॉर्टम करने वाले एक डॉक्टर ने दी। प्रद्युम्न का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि पोस्टमार्टम जांच के दौरान पता चला कि प्रद्युम्न की मौत ज्यादा खून बह जाने से हुई थी।

साथ ही उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।डॉक्टर दीपक माथुर ने बताया कि जांच के दौरान पता चला कि उसकी मौत का कारण ज्यादा खून बह जाना था। हालांकि उसके शरीर पर कहीं भी यौन शोषण से संबंधित कोई निशान नहीं मिले हैं।

बता दें कि गुरुग्राम स्थित रयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार(8 सितंबर) सुबह दूसरी कक्षा के छात्र प्रद्युम्न की गला रेतकर हत्या का सनसनीखेज मामला सामने आया। पुलिस ने हत्या के प्रयास के आरोप में बस कंडक्टर अशोक कुमार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस पूछताछ में कंडक्टर ने अपना जुर्म कबूल कर लिया।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here