गुलाम नबी आज़ाद ने भाजपा के आरोप को बताया झूठा

0

सोमवार को कांग्रेस नेता, गुलाम नबी आज़ाद ने आईएसआईएस और आरएसएस पर दी गई कथित तौर पर समानता वाली बात पर अपना पक्ष रखा और कहा कि उन्होंने ऐसा कोई भी बयान नही दिया है।

आज राज्यसभा में आज़ाद ने शनिवार को जमियत-उलेमा-ऐ-हिन्द के एक कार्यक्रम में दिए अपने भाषण का स्क्रिप्ट पढ़ कर सुनाया।

उन्होंने भाजपा के उन सारे आरोपों को खारिज किया जिनके अनुसार आज़ाद ने संघ और इस्लामिक स्टेट को एक जैसा बताया था।

आज़ाद ने कहा कि हम जिस तरह से इस्लामिक स्टेट की सिद्धांतों की निंदा करते हैं उसी प्रकार से संघ की भी करते हैं ।

आज़ाद ने रवि शंकर प्रसाद को चुनौती देते हुए कहा कि रविशंकर प्रसाद को वह सीडी देख कर खुद सच्चाई का पता लगा लेना चाहिए।

आज़ाद ने आगे यह भी कहा, “अगर कोई इस्लाम में गलत काम करता है तो हम उसकी भी निंदा करते हैं। चाहे वह हिन्दू हो, मुलमन हो या सिख हो, हम हर समुदाय की साम्प्रदायिकता के खिलाफ आवाज़ उठाएंगे। यह लड़ाई साम्प्रदाियकता और धर्म निरपेक्षतावाद के बीच है। हमे देखना होगा की यह लड़ाई कौन जीतता है।”

वित्तमंत्री अरुण जेटली आज़ाद की प्रशंसा करते नज़र आए और उन्होंने कहा की आज़ाद अपनी शालीनता केलिए मशहूर हैं और हो सकता है कि गलती से उन्होंने ऐसा कह दिया हो।

मुख़्तार अब्बास नकवी भी आज़ाद के भाषण के बाद कुछ ढीले दिखे और उन्होंने आज़ाद से माफ़ी मांग कर बात खत्म करने की गुजारिश की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here