गुजरात : गो-रक्षकों द्वारा पिटाई के 4 दिन बाद 29 वर्षीय व्यक्ति की मौत

0

कथित रूप से गौरक्षकों के हमले का शिकार हुए 29 साल के शख्स की गुजरात के अहमदाबाद के अस्पताल में मौत हो गई।
पुलिस ने बताया कि 13 सितंबर की रात को मोहम्मद अयूब मेव की कार दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद कुछ अज्ञात लोगों ने एस जी राजमार्ग पर उसे पीटा। जिसके बाद मेव को वी एस अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

मेव कार में कथित तौर पर बछड़ा ले जा रहा था जिसकी भी दुर्घटना में मौत हो गयी।

अयूब के भाई इमरान का आरोप है कि उसे इस संदेह के आधार पर पीटा गया कि वह गायों को कटाई के लिए ले जा रहा था।

भाषा की खबर के अनुसार,आनंदनगर थाने के प्रभारी पी बी राणा ने कहा, ‘‘अयूब का वाहन 13 सितंबर की रात को एसजी हाईवे पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया। जब वहां खड़े कुछ लोगों ने वाहन देखा तो उन्होंने उसमें एक बछड़ा और एक बैल मिला। हादसे में बछड़ा मर गया और बैल को बचा लिया गया। लोगों के गुस्से से बचने के लिए अयूब भागने लगा।

राणा ने कहा, ‘‘जब वह भागने लगा तो कुछ लोगों ने उसे पकड़ लिया और उसकी पिटाई की। हमने भीड़ के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया था। अब उसकी मृत्यु हो गयी है तो हम हत्या के मामले में प्राथमिकी दर्ज करेंगे। अभी तक किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है।’’ उन्होंने कहा कि पिछली प्राथमिकी में गौसंरक्षण समूहों से जुड़े किसी व्यक्ति का नाम नहीं है।

जिस शख्स की मौत हुई है उसके साथ एक और शख्स भी मौजूद था। पकड़े गए दूसरे शख्स का कहना है कि वे गाड़ी में कोई गाय का बछड़ा नहीं ले जा रहे थे और उनका एक्सीडेंट भी इस वजह से हुआ क्योंकि उनके पीछे गौ-रक्षक पड़े हुए थे। हालांकि, पुलिस इस बात को मानने को तैयार नहीं है। पुलिस का कहना है कि उसने पीछे के 9 ट्रेफिक जंक्शन पर लगे सीसीटीवी को खंगाला है। लेकिन उनमें कोई भी गाड़ी का पीछा करते हुए नहीं दिख रहा। साथ ही पुलिस को गाड़ी में से बछड़े भी बरामद हुए थे। एक्सीडेंट में गाड़ी इतनी झुलस चुकी थी कि एक बछड़े की वहीं पर मौत हो गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here