गुजरात की BJP सरकार ने बदला ड्रैगन फ्रूट का नाम, अब कहलाएगा ‘कमलम’

0

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने मंगलवार को कहा कि सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर ‘कमलम’ रखने का फैसला किया है। विजय रुपाणी ने कहा कि ड्रैगन फ्रूट कमल जैसा दिखता है, इसलिए इस फ्रूट का नाम कमलम रखा जा रहा हैं। विजय रूपाणी अपने इस ऐलान के बाद सोशल मीडिया यूजर्स के निशाने पर आ गए है, लोग उन्हें जमकर ट्रोल कर रहे हैं।

ड्रैगन फ्रूट

सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि, ‘राज्य सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलने का फैसला किया है। फल का बाहरी आकार कमल जैसा होता है, इसलिए ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर कमलम रखा जाएगा।’ उन्होंने कहा ‘चीन के साथ जुड़े ड्रैगन फ्रूट का नाम हमने बदल दिया है।’ बता दें कि, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 26 जुलाई 2020 में इस फल का जिक्र अपने कार्यक्रम मन की बात में की थी।

सीएम विजय रूपाणी के इस ऐलान पर सोशल मीडिया यूजर्स भी जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है। AAP नेता ने अपने ट्वीट में लिखा, “बहुत बढ़िया! वैसे भी, अब और कोई काम तो बचा नहीं, तो यही सही!!!” एक अन्य यूजर ने लिखा, “ये BJP वाले नाम बदलने में एक्सपर्ट है सब मोदी जी से सीखे है मोदी जी ने विकलांग को दिव्यांग, बेरोजगार को आत्मनिर्भर ओर तबाही को विकास बना दिया।”

एक अन्य यूजर ने लिखा, “जगहों के नाम बदलते बदलते अब यह फल और सब्जियों के नाम भी बदलने लगे हैं.. राज्य का मुख्यमंत्री कितना खाली बैठा हुआ है।” बता दें कि, इसी तरह तमाम यूजर्स इसपर जमकर अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं।

देखें कुछ ऐसे ही ट्वीट:

हाल के वर्षों में तेजी से लोकप्रिय ड्रैगन फ्रूट एक अनोखे रूप और स्वाद के साथ एक उष्णकटिबंधीय फल है। पिछले कुछ वर्षों में गुजरात के कच्छ और दक्षिण गुजरात के नवसारी के आसपास के इलाके में किसान ड्रैगन फ्रूट की खेती कर रहे हैं। बड़ी मात्रा में यहां पर ड्रैगन फ्रूट का उत्पादन भी हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here