पंजाब के बाद अब गुजरात चुनाव में भी NRI का सहारा लेगी AAP

0

वर्ष 2015 के दिल्ली विधानसभा के चुनाव में 70 में से 67 सीटें आने के बाद आम आदमी पार्टी के हौसले और बुलंद हुए और तभी से मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पंजाब पर टकटकी लगाए हुए थे और उन्होंने पंजाब में विधानसभा चुनाव भी लड़ा लेकिन वो उसमें कितना सफल होते है इसका अंदाजा तो अब 11 मार्च को ही पता लगेगा।

पंजाब के बाद अब गुजरात चुनाव
फाइल फोटो

लेकिन येे तो अब साफ लगता है कि, भारत की राजनीति में एनआरआई का रंग चढ़ने लगा है। यही कारण है कि पार्टी ने चुनावी फंड जुटाने के लिए पंजाब चुनाव के बाद आम आदमी पार्टी गुजरात में गुजराती एनआरआई से प्रचार कराना चाहती है। कल बेंगलूरू में प्राकृतिक चिकित्सा केन्द्र से इलाज कराकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर पार्टी की शीर्ष निर्णय लेने वाली संस्था राजनीतिक मामलों की समिति की यहां बैठक हुई।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, बैठक में बेंगलूरु के उद्यमी पृथ्वी रेड्डी को एनआरआई सेल का सह-संयोजक नियुक्त किया गया, रेड्डी पार्टी के साथ शुरुआती दौर से रहे हैं। बताया जाता है कि पंजाब चुनावों में भी एनआरआई को एकत्रित करने की जिम्मेदारी निभा चुके रेड्डी को गुजरात चुनाव के लिए लगाया गया है। पार्टी सूत्रों का दावा है कि एनआरआई समर्थकों के जुड़ने से चुनाव के वक्त उनकी अपील चुनावी राज्यों में फायदेमंद साबित हो सकती है।

आज तक की ख़बर के अनुसार, पार्टी सूत्रों का दावा है कि 11 मार्च को विधानसभा चुनावों के नतीजों के बाद आम आदमी पार्टी आक्रामकता के साथ गुजरात में दिसंबर में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए पूरी ताकत झोंकने वाली है। बता दें कि, गुजरात में इस वर्ष दिसंबर में विधानसभा चुनाव होना है।

"
"

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here