गुजरात में महज 65 सीटों तक सिमट सकती है BJP, 113 सीट के साथ कांग्रेस बना सकती है सरकार, योगेंद्र यादव की चुनावी भविष्यवाणी

1

गुजरात में 14 दिसंबर को होने वाले दूसरे एवं अंतिम चरण के विधानसभा चुनावों के लिए मंगलवार (12 दिसंबर) को प्रचार का अंत हो गया। प्रचार के दौरान सत्तारूढ़ बीजेपी और विपक्षी कांग्रेस के शीर्ष नेताओं ने एक दूसरे पर जमकर शब्दों के बाण चलाए। इस बीच मशहूर चुनाव विश्लेषक और स्वराज इंडिया पार्टी के अध्यक्ष योगेंद्र यादव ने दूसरे चरण की वोटिंग से एक दिन पहले अपना निजी ओपिनियन पोल (चुनावी भविष्यवाणी) पेश किया है।योगेंद्र यादव की सुनावी सर्वेक्षण की मानें तो गुजरात में कांग्रेस शानदार वापसी कर सकती है, जबकि बीजेपी को करारी हार का सामना करना पड़ सकता है। सर्वे के मुताबिक राज्य में वोट प्रतिशत के आधार पर सत्तारूढ़ बीजेपी और कांग्रेस के बीच काफी अंतर है। योगेंद्र यादव के मुताबिक बीजेपी को जहां 41 फीसदी वोट मिलने की संभावना है वहीं कांग्रेस 45 प्रतिशत वोट शेयर हासिल कर सकती है।

अगर इसे सीट में तब्दील करें तो योगेंद्र यादव ने 182 सदस्यों वाले गुजरात विधानसभा में बीजेपी को मात्र 65 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है, जबकि कांग्रेस की झोली में 113 सीटें जाती दिख रही हैं। योगेंद्र यादव ने अपने सर्वे में गुजरात की 182 सीटों को शहरी, अर्ध शहरी और ग्रामीण सीटों में बांटकर विश्लेषण किया है।

गुजरात में 98 ग्रामीण, 45 अर्ध शहरी यानी सेमी अर्बन और 39 शहरी यानी अर्बन सीटें हैं। योगेंद्र यादव का अनुमान है कि इस बार ग्रामीण इलाकों में बीजेपी की पूरी तरह से सफाया हो सकता है। सर्वे के अनुसार शहरी क्षेत्रों (39 सीट) में बीजेपी तो ग्रामीण (98) और अर्ध शहरी (45) क्षेत्रों में कांग्रेस आगे दिख रही है।

योगेंद्र यादव की मानें तो ग्रामीण क्षेत्रों में कांग्रेस को 74 और बीजेपी को मात्र 20 सीटें मिलने की संभावना है। वहीं अर्ध शहरी इलाकों में बीजेपी को 18 तो कांग्रेस को 27 सीटें मिल सकती है, जबकि शहरी क्षेत्रों में बीजेपी को 27 और कांग्रेस को 12 सीट मिलने की उम्मीद है। इस सर्वे को योगेंद्र यादव ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर ट्वीट कर जानकारी दी है।

बता दें कि इससे पहले एबीपी न्यूज ने लोकनीति और सीएसडीएस के साथ मिलकर ओपिनियन पोल जारी किया था। जिसके मुताबिक राज्य में वोट प्रतिशत के आधार पर सत्तारूढ़ बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर है, जबकि बीजेपी को कांग्रेस से ज्यादा सीटें मिलने की संभावना है।

सीएसडीएस ने अपने सर्वे में 23 से 30 नवंबर के बीच 50 विधानसभा क्षेत्रों के 200 बूथों पर 3655 लोगों से राय ली थी। जिसमें एबीपी और सीएसडीएस ने अपने सर्वे में दावा किया था कि दोनों ही पार्टियों को 43-43 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं, जबकि अन्य के खाते में 14 फीसदी वोट जाने की उम्मीद है।

सर्वे के मुताबिक 182 सदस्यों वाले गुजरात विधानसभा में बीजेपी को कुल 91 से 99 सीटें मिलने की उम्मीद है, जबकि कांग्रेस की झोली में 78 से 86 सीटें जाती दिख रही हैं। अन्य के खाते में 3 से 7 सीट जाती दिख रही हैं। अगर इन आंकड़ों का औसत निकालें तो गुजरात में बीजेपी को 95 सीटें, कांग्रेस को 82 और अन्य के खाते में 5 सीटें जा सकती हैं।

बता दें कि 182 सदस्यों वाली गुजरात विधानसभा में 2012 में 115 सीटों के साथ जीतकर बीजेपी की तरफ से नरेंद्र मोदी ने सरकार बनाई थी, जबकि कांग्रेस मात्र 61 सीटों पर सिमट गई थी। 2014 में देश का प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने गुजरात के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था। उनके स्थान पर पहले आनंदीबेन पटेल और फिर बाद में विजय रुपाणी मुख्यमंत्री बने।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here