ABP-CSDS सर्वे: गुजरात चुनाव में नहीं चला PM मोदी का जादू? BJP और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर, दोनों को मिल सकते हैं 43-43 फीसदी वोट

0

गुजरात में 9 और 14 दिसंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों के बीच एबीपी न्यूज ने लोकनीति और सीएसडीएस के साथ मिलकर ओपिनियन पोल सोमवार (4 दिसंबर) को जारी किया। इसके मुताबिक राज्य में वोट प्रतिशत के आधार पर सत्तारूढ़ बीजेपी और कांग्रेस के बीच कांटे की टक्कर है, जबकि बीजेपी को कांग्रेस से ज्यादा सीटें मिलने की संभावना है। शहरी क्षेत्रों में बीजेपी तो ग्रामीण क्षेत्रों में कांग्रेस आगे दिख रही है। सर्वे में 23 से 30 नवंबर के बीच 50 विधानसभा क्षेत्रों के 200 बूथों पर 3655 लोगों से राय ली गई।ओपिनियन पोल के मुताबिक दोनों ही पार्टियों को 43-43 फीसदी वोट मिलने के आसार हैं, जबकि अन्य के खाते में 14 फीसदी वोट जाने की उम्मीद है। सर्वे के मुताबिक 182 सदस्यों वाले गुजरात विधानसभा में बीजेपी को कुल 91 से 99 सीटें मिलने की उम्मीद है, जबकि कांग्रेस की झोली में 78 से 86 सीटें जाती दिख रही हैं। अन्य के खाते में 3 से 7 सीट जाती दिख रही हैं। अगर इन आंकड़ों का औसत निकालें तो गुजरात में बीजेपी को 95 सीटें, कांग्रेस को 82 और अन्य के खाते में 5 सीटें जा सकती हैं।

सर्वे की खास बातें:-

  • जीएसटी के चलते बीजेपी से नाखुश व्यापारी इस बार कांग्रेस की तरफ ज्यादा झुके हुए नजर आ रहे हैं। सर्वे के हिसाब से कांग्रेस को जहां 43 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं वहीं 40 प्रतिशत व्यापारी बीजेपी के लिए वोट कर सकते हैं। पोल में यह भी सामने आया है कि केवल 37 प्रतिशत व्यापारी जीएसटी से खुश हैं, जबकि 44 प्रतिशत व्यापारी इससे नाखुश।
  • व्यापारियों के साथ ही पाटीदार समाज भी कांग्रेस की ओर रुख कर सकता है। सर्वे के मुताबिक बीजेपी से 2 प्रतिशत अधिक पाटीदार कांग्रेस के लिए वोट कर सकते हैं। हालांकि, कोली समाज अभी भी बीजेपी के साथ नजर आ रहा है। कोली समाज में से बीजेपी को कांग्रेस की तुलना में 26 प्रतिशत वोट अधिक मिल सकते हैं।
  • ओपिनियन पोल के मुताबिक गुजरात के सौराष्ट्र-कच्छ इलाके में ग्रामीण क्षेत्र में कांग्रेस को फायदा होता दिख रहा है। गांव में 43 फीसदी वोट शेयर बीजेपी के साथ है तो 49 फीसदी की पसंद कांग्रेस है। सौराष्ट्र-कच्छ के शहरी इलाकों की बात करें तो यहां बीजेपी को बंपर फायदा होता दिख रहा है। सौराष्ट्र-कच्छ के 46 फीसदी वोट शेयर बीजेपी के साथ है तो सिर्फ 30 प्रतिशत वोट शेयर ही कांग्रेस को मिलता दिख रहा है। सौराष्ट्र-कच्छ के फाइनल ओपिनियन पोल पर नजर डालें तो बीजेपी ही आगे दिख रही है। 45 फीसदी वोट शेयर बीजेपी को मिलता दिख रहा है तो 39 प्रतिशत वोट शेयर कांग्रेस को मिलता दिख रहा है।
  • उत्तर गुजरात में कांग्रेस बीजेपी से आगे निकलती हुई दिखाई दे रही है। वहां बीजेपी को 45 प्रतिशत और कांग्रेस को 49 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। यहां ग्रामीण इलाकों में 56 प्रतिशत वोटों के साथ कांग्रेस बीजेपी (41 फीसदी) से आगे है जबकि शहरी इलाकों में बीजेपी (50 प्रतिशत) कांग्रेस (41 फीसदी) से आगे है।
  • दक्षिण गुजरात में कांग्रेस को बढ़त है और उसे 42 प्रतिशत वोट मिल सकते हैं। बीजेपी को यहां 40 प्रतिशत वोट से संतोष करना पड़ सकता है। यहां के ग्रामीण इलाकों में बीजेपी 44 प्रतिशत के साथ कांग्रेस (42 फीसदी) से आगे है जबकि शहरी इलाकों में कांग्रेस 43 प्रतिशत वोटों के साथ बीजेपी (36 फीसदी) से आगे है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here