GST कलेक्शन अप्रैल में 1 लाख करोड़ रुपये के पार

0

‘एक देश एक कर’ की तर्ज पर एक जुलाई 2017 से लागू गुड्स ऐंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) से सरकार ने पहली बार एक महीने में 1 लाख करोड़ रुपये के स्तर को पार कर दिया है। बता दें कि, यह पहली बार है जीएसटी कलेक्‍शन इस लेवल तक पहुंचा है।

सरकार
प्रतिकात्मक फोटो

सरकार ने मंगलवार(1 मई) को आंकड़े जारी करते हुए कहा कि अप्रैल में कुल 1,03,458 करोड़ रुपये जीएसटी कलेक्शन हुआ है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ट्वीट करते हुए लिखा कि, ‘अप्रैल में जीएसटी संग्रह का 1 लाख करोड़ रुपये से अधिक होने का आंकड़ा ऐतिहासिक उपलब्धि। इससे आर्थिक गतिविधियों के बढ़ने का संकेत मिलता है। ई-वे बिल प्रणाली शुरू होने और जीएसटी अनुपालन सुधरने से आगे भी संग्रहण में बेहतर रुझान बना रहेगा।’

वित्‍त मंत्रालय का कहना है कि जीएसटी कलेक्‍शन में आई तेजी से साफ है कि अर्थव्‍यवस्‍था में तेजी है और नए टैक्‍स कानून का सही तरीके से पालन हो रहा है। देशभर में गुड्स एंड सर्विसेज टैक्‍स 1 जुलाई 2017 से लागू हो हुआ था।

मनी भास्कर.कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, वित्त मंत्रालय के अनुसार, अप्रैल के दौरान देश में कुल 1,03,458 करोड़ रुपए का GST कलेक्शन हुआ है। इसमें 18,652 करोड़ रुपए केंद्रीय जीएसटी (CGST), 25704 करोड़ रुपए राज्य जीएसटी (SGST) और 50548 करोड़ रुपए इंटिग्रेटिड जीएसटी (IGST)(इसमें 21, 246 करोड़ रुपए इम्‍पोर्ट से मिली रकम शामिल) के हैं, इसके अलावा 8558 करोड़ रुपए का सेस (इसमें 702 करोड़ रुपए इम्‍पोर्ट से मिली रकम शामिल) भी इकट्ठा हुआ है।

देश में GST को लागू हुए 10 महीने हो चुके हैं और 10 महीने के दौरान कभी भी GST की वसूली 1 लाख करोड़ रुपए के पार नहीं गई थी। वित्त मंत्रालय के अनुसार, अप्रैल महीने में समायोजन के बाद केंद्र और राज्य सरकारों से प्राप्त कुल राजस्व में 32,493 करोड़ रुपए सीजीएसटी और 40,257 करोड़ रुपए एसजीएसटी के तहत कलेक्ट हुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here