जयपुर: PM मोदी के कार्यक्रम में ‘स्वच्छता अभियान’ की उड़ी धज्जियां, खुले में शौच करने को मजबूर हुए लाभार्थी, देखिए वीडियो

0

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार(7 जुलाई) को केंद्र और राजस्थान सरकार की योजनाओं का लाभ उठाने वाले लोगों से मिलने के लिए जयपुर पहुंचे थे, जहां पर उन्होंने एक जनसभा को भी संबोधित किया। यहां राज्य भर से करीब सवा दो लाख सरकारी योजनाओं के लाभार्थी पीएम मोदी से सीधे संवाद करने के लिए जयपुर पहुंते थे। लेकिन, इस कार्यक्रम से पहले जयपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बहुचर्चित ‘स्वच्छ भारत अभियान’ की खुलकर धज्जियां उडाई गई। जिसका वीडियो भी सामने आया है।

पीएम मोदी के इस कार्यक्रम से पहले आई इस खबर ने प्रशासन के होश उड़ा दिए हैं। प्रशासन ने जयपुर की मुहाना मंडी में रोके गए सरकारी योजना के लाभार्थियों के लिए शौचालय तक का इंतज़ाम नहीं किया। जिसके बाद महिलाओं और पुरूषों को खुले में शौच जाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

दरअसल, जिस जगह पर सरकारी योजनाओं के लाभार्थी रुके हुए थे वहां पर पानी का एक टैंक लगा दिया है और शौच के लिए कुछ कांच की बोतलों का इंतजाम कर दिया गया था। यहां ठहरे कुछ लाभार्थियों से एबीपी न्यूज़ ने बात की तो उन्होंने बताया कि यहां कोई व्यवस्था नहीं है। हम लोग खुले में शौच जाने के लिए मजबूर है, महिलाएं भी खुले में जा रही हैं।

एक व्यक्ति ने एबीपी न्यूज़ को बताया, ‘क्या करना है? हमें सरकार के निर्देशों के अनुसार करना होगा।’ जब उनसे पूछा गया कि क्या सब खुले में शौच जा रहें है, तो उन्होंने जवाब दिया, ‘हर कोई जा रहा है, महिलाएं भी जा रही हैं।’ एक अन्य लाभार्थी ने कहा, ‘शौचालयों के लिए कोई व्यवस्था नहीं है, हमें क्या करना चाहिए?’ जब पूछा गया कि उन्होंने इस मुद्दे को आयोजक के साथ क्यों नहीं उठाया, तो प्लास्टिक की बोतल रखते हुए एक व्यक्ति ने कहा, टहमने उनसे पूछा, उन्होंने हमें खुले में जाने के लिए कहा।’

देखिए वीडियो :

बता दें कि, पीएम मोदी के इस कार्यक्रम में काले कपड़े पहनकर आए लाभार्थियों को सभास्थल में प्रवेश नहीं दिया गया था। सुरक्षाकर्मी चेकिंग पॉइंट पर ही उन्हें बाहर का रास्ता दिखा दे रहें थे। यहां तक की काली रंग की पेंट पहनकर आने वाले व्यक्ति को भी सभास्थल में प्रवेश नहीं करने दिया गया था।

दरअसल, विरोध के डर से चेकिंग पॉइंट पर तैनात पुलिसकर्मियों विशेष हिदायत दी गई है कि जो भी काला वस्त्र पहन रखा हो तो उसे सभास्थल में घुसने नहीं दिया जाए। यहां तक की कोई महिला काला दुपट्टा लेकर पहुंची है तो उसे भी प्रवेश नहीं मिल रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here