मुझे यह कहने में संकोच नहीं है कि गोविंदा के दाऊद इब्राहिम से रिश्ते थे: राम नाइक

0

उत्तर प्रदेश के गर्वनर राम नाइक ने अपनी किताब ‘चरैवति-चरैवेति’ में दावा किया है कि साल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान उन्हें हराने के लिए गोविंदा ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और बिल्डर हितेन ठाकुर से मदद ली थी। राम नाइक की इस किताब का विमोचन 25 अप्रैल को मुंबई में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने किया, उस कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर जोशी और सुशील कुमार शिंदे भी मौजूद थे।

Also Read:  क्या नई नियुक्तियों को झेल पाएगी एयर इंडिया ?

ee

उत्तर प्रदेश के गर्वनर राम नाइक ने बॉलीवुड एक्टर और कांग्रेस के पूर्व सांसद गोविंदा पर सनसनीखेज आरोप लगाए हैं। न्यूज 18 की खबर के अनुसार अपनी किताब ‘चरैवति-चरैवेति’ में राम नाइक ने दावा किया है कि साल 2014 में लोकसभा चुनाव के दौरान उन्हें हराने के लिए गोविंदा ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम और बिल्डर हितेन ठाकुर से मदद ली थी। उस चुनाव में गोविंदा ने मुंबई नॉर्थ सीट से राम नाइक को 11,000 वोटों से शिकस्त दी थी।

Also Read:  भोपाल जाने के लिए सानिया ने मांगा था चार्टर्ड विमान!

राम नाइक ने ‘चरैवति-चरैवेति’ (बढ़ते रहो) में लिखा है- गोविंदा की दाऊद इब्राहिम से दोस्ती थी और इसी का गोविंदा ने लोकसभा चुनाव में फायदा उठाया। यहां तक कि इन दोनों ने वोटरों को भी मेरे पक्ष में वोट डालने पर धमकाया था। मुझे यह कहने में संकोच नहीं है कि गोविंदा के दाऊद इब्राहिम और हितेन ठाकुर से रिश्ते थे।

हालांकि, गोविंदा ने राम नाइक के इस दावे को खारिज कर दिया है। गोविंदा का कहना है कि उस चुनाव में जनता ने उन्हें जिताया था। गोविंदा ने बताया- उस वक्त मुझे किसी के समर्थन की जरूरत नहीं थी. ऐसा कहना कि उस वक्त वोटर अंडरवर्ल्ड के हाथ बिक गए थे, बिल्कुल गलत होगा। यह मतदाताओं का अपमान करने जैसा होगा।
गोविंदा ने कहा- राम नाइक से अपील करूंगा कि वे मेरा नाम खराब न करें, साथ ही मेरे करियर में बाधा न डालें।

Also Read:  पेटीएम के साथ गुप्त समझौते पर केजरीवाल ने मोदी पर साधा निशाना, आज तक ने डिलीट किया ट्वीट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here