मनोहर पार्रिकर के एक और मंत्री ने पर्यटकों को लेकर दिया विवादास्पद बयान, बोले- ‘गोवा की संस्कृति का ध्यान ना रखने वाले पर्यटक खदेड़ दिए जाएंगे’

0

गोवा के कृषि मंत्री विजय सरदेसाई द्वारा देसी पर्यटकों को ‘धरती के बेकार लोग’ बताने का मामला अभी ठंडा ही नहीं हुआ कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के एक और मंत्री ने पर्यटकों को लेकर विवादास्पद बयान दिया है। विजय सरदेसाई द्वारा घरेलू पर्यटकों के एक तबके को धरती की गंदगी बताए जाने के महज दो दिन बाद ही पर्यटन मंत्री मनोहर अजगांवकर ने गोवा की संस्कृति और तौर-तरीकों का ख्याल नहीं रखने वालों को बाहर खदेड़ने की धमकी दी है।

समाचार एजेंसी भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, राज्य के पर्यटन मंत्री अजगांवकर ने यह भी कहा है कि गोवा में ऐसे पर्यटकों की जरूरत नहीं है जो यहां मादक पदार्थ बेचते हैं। राज्य पर्यटन विभाग की ओर से आयोजित ‘फूड ऐंड कल्चरल फेस्टिवल’ के उद्घाटन के दौरान शनिवार (10 फरवरी) को मंत्री ने कहा कि, ‘यहां आने वाले पर्यटकों को गोवा की संस्कृति और तौर-तरीकों का ख्याल रखना चाहिए, वरना मैं उन्हें खदेड़ दूंगा।’ उन्होंने कहा कि, ‘मैं साफ साफ कह रहा हूं कि मैं किसी की नहीं सुनूंगा।’

नवभारत टाइम्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (एमजीपी) के विधायक अजगांवकर ने कहा कि, ‘हमें अपने गोवा की संस्कृति और तौर-तरीकों का संरक्षण करना पड़ेगा। हमें ऐसे पर्यटक नहीं चाहिए जो मादक पदार्थ बेचते हैं और हमें ऐसे होटल भी नहीं चाहिए जो ड्रग्स बेचते हों।’ गौरतलब है कि इससे पहले शुक्रवार को प्रदेश के कृषि मंत्री सरदेसाई ने घरेलू पर्यटकों के एक तबके को ‘धरती की गंदगी’ बताया था।

इस दौरान सरदेसाई ने कहा था कि, ‘पर्यटकों का एक तबका हंगामा मचा रहा है और वह वास्तव में धरती की गंदगी हैं, हमें गोवा में ऐसे पर्यटक नहीं चाहिए।’ हालांकि बाद में अपने बयान को संदर्भ से काटकर पेश किए जाने का आरोप लगाते हुए मंत्री ने कहा कि, ‘मैंने गोवा आने वाले सभी 65 लाख पर्यटकों को धरती की गंदगी नहीं कहा था। मैंने कहा था कि पर्यटकों का एक तबका परेशानी पैदा कर रहा है और असल में वे धरती की गंदगी हैं और गोवा में ऐसे पर्यटक नहीं होने चाहिए।’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here