गोवा की राज्यपाल ने छात्रों को दी सलाह, बोलीं- ‘एक नहीं, कम से कम दो बच्चे पैदा करें’

0

गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा ने एक कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करते हुए अजीबोगरीब सलाह दी है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सिन्हा ने छात्रों को सलाह देते हुए कहा कि युवाओं को एक बच्चे के जन्म के बाद रुकना नहीं चाहिए। उन्हें कम से कम दो बच्चे पैदा करने चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे बचपन से ही बच्चों के मन में चीजें बांटने की समझदारी आती है।

File Photo: Facebook.com/mridula.sinha

रिपोर्ट के मुताबिक कर्नाटक के बेलगाम स्थित केएलई एकेडमी ऑफ हायर एजुकेशन एंड रिसर्च में हुए दीक्षांत समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थिति मृदुला सिन्हा ने यह बात कही। मृदुला सिन्हा ने कहा, ‘आप लोग भविष्य में केवल एक बच्चा मत रखना, कम से कम दो बच्चे तो जरूर रखना। दो होने के कारण वे चीजें शेयर करना और उन्हें छीनना सीखेंगे, क्योंकि जिंदगी में कई बार आपको शेयर करना जरूरी होता है तो कई बार आपको कुछ छीनना भी पड़ता है।’

नवभारत टाइम्स के मुताबिक सिन्हा ने कहा, ‘बुजुर्ग लोग कई बार कहते हैं कि युवा पीढ़ी को मानवीय संस्कारों के लिए सम्मान नहीं है लेकिन मेरा अनुभव अलग है। आज के युवा अधिक जिम्मेदार, यथार्थवादी और दूरदर्शी हैं। यह भारत के संस्कारों की वजह से है जो मां के गर्भ से सीखना शुरू हो जाता है। हालांकि, युवाओं में सहानुभूति कम होती जा रही है।’

वहीं, जनसत्ता के मुताबिक इसके साथ ही सिन्हा सभी छात्रों को सलाह दी कि वे अपनी शादी का अंत तलाक के साथ न करें। उन्होंने कहा, ‘आप लोगों को एक-दूसरे के साथ रहना चाहिए और शादी तोड़ने का फैसला नहीं लेना चाहिए।’ वहीं गोवा की राज्यपाल ने पुरुषों के लिए कहा कि महिलाओं के सम्मान के लिए जिंदगी को रिस्क में डालना कुछ गलत नहीं है। साथ ही मृदुला ने छात्रों से यह भी कहा कि भविष्य में वे अपने बूढ़े माता-पिता को वृद्धाश्रम न भेजें।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here