होटल विवाद: महिला के परिवार का सनसनीखेज आरोप- ‘रात को जबरन घर में घुस आए थे मेजर गोगोई’

0

पिछले साल एक कश्मीरी युवक फारूख अहमद डार को जीप के बोनेट पर बांधकर चर्चा में आए मेजर नितिन लीतुल गोगोई होटल और लड़की के विवाद में फंसते जा रहे हैं। मेजर गोगोई को बुधवार (23 मई) को श्रीनगर के एक होटल में महिला के साथ घुसने को लेकर हुए विवाद के बाद मेजर गोगोई को पुलिस ने थोड़ी देर के लिए हिरासत में ले लिया था। इस बीच महिला के परिवार वालों ने आरोप लगाया है कि मेजर गोगोई और ड्राइवर समीर महिला के घर में बिनाकारण घुस आए थे और इस दौरान ये दोनों सिविल ड्रेस में थे।

बडगाम में रहने वाली महिला की मां ने अंग्रेजी अखबार इकोनॉमिक टाइम्स को बताया, ‘आर्मी के लिए काम करने वाला समीर 20 दिन पहले आधी रात को हमारे घर में जबरन घुस आया, उसके साथ मेजर गोगोई भी थे। इन लोगों ने हमसे पूछा कि हमें कोई धमका तो नहीं रहा! मैं समझ नहीं पाई कि वह क्या कह रहे हैं। वे तुरंत चले भी गए। मेरी बेटी को फंसाया जा रहा है, वह अभी बच्ची है।’

उन्होंने यह भी बताया कि एक महीने पहले भी समीर उनके घर में आया और बेवजह की बातें शुरू कर दीं। वह कहती हैं, ‘मैंने इसके बारे में पूछा तो मेरी बेटी ने कुछ भी बताने से मना कर दिया। मुझे लगता है कि समीर एक दलाल है, उसे फांसी देनी चाहिए।’ बता दें कि बुधवार को एक होटल में महिला संग घुसने से रोके जाने के बाद विवाद हुआ और होटेल वालों ने पुलिस बुलाई, जिसके बाद पुलिस ने मेजर गोगोई को हिरासत में लिया और पूछताछ के बाद छोड़ दिया।

वहीं, इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक महिला की मां ने कहा कि वह सुबह घर से यह कह कर निकली थी कि बैंक जा रही है और उसके बाद नहीं लौटी। उन्हें तो इस घटना का पता तब चला, जब पुलिस का फोन गांव के सरपंच के पास आया। लड़की की मां ने सनसनीखेज आरोप लगाते हुए दावा किया कि मेजर गोगोई उनके घर रात में दो बार आ चुके थे।

उन्होंने घर में दो बार छापा मारा था। सेना को देखकर वे घबरा गई थी। दोनों मौके पर गोगोई के साथ समीर था। उसने उन्हें चेतावनी दी थी कि रेड के बारे में किसी को जानकारी न दें। महिला की मां का कहना है कि उनकी लड़की की उम्र 17 साल है। लेकिन पुलिस का कहना है कि लड़की बालिग है। लड़की का बयान लेकर उसे छोड़ दिया गया है।

सेना प्रमुख बोले- ‘मेजर गोगोई गलत निकले तो कड़ी कार्रवाई होगी’

इस बीच विवादों में घिरे मेजर गोगोई पर अब भारतीय सेना भी सख्त हो गई है। सेना प्रमुख बिपिन रावत का कहना है कि अगर मेजर गोगोई ने कोई गलत काम किया है तो उन्हें उचित दंड दिया जाएगा। बिपिन रावत ने कहा, ‘भारतीय सेना में कोई भी (किसी भी रैंक का) अगर कुछ गलत करता है और यह हमारे संज्ञान में आता है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अगर मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो मैं कह सकता हूं कि उन्हें उचित दंड दिया जाएगा और दंड भी ऐसा होगा जो एक उदाहरण स्थापित करेगा।’

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, बुधवार को एक होटल में महिला संग घुसने से रोके जाने के बाद विवाद हुआ और होटल के लोगों ने पुलिस बुलाई, जिसके बाद पुलिस ने मेजर गोगोई को हिरासत में लिया और पूछताछ के बाद छोड़ दिया। मेजर गोगोई एक युवती के साथ होटल में घुसना चाहते थे। होटल स्टाफ ने युवती के साथ घुसने की अनुमति नहीं दी। इस पर वहां झगड़ा हो गया।होटल में बुधवार को हुई घटना के संबंध में जम्मू कश्मीर पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि गोगोई ने पुलिस से कहा कि वह एक ‘सोर्स मीटिंग’ के लिए होटल आए थे। अधिकारी ने बताया कि घटना बुधवार की सुबह हुई जब मेजर गोगोई अपने सैन्यकर्मी चालक और युवती के साथ डलगेट स्थित होटल पहुंचे। रिपोर्ट के मुताबिक लीतुल गोगोई के नाम पर होटल में दो अतिथियों के एक रात के प्रवास के लिए ऑनलाइन बुकिंग हुई थी।

दोनों पक्षों के बयान दर्ज करने वाली पुलिस के अनुसार मेजर से होटल स्टाफ ने कहा कि वह युवती के साथ कमरे में प्रवेश नहीं कर सकते। इस पर स्टाफ और गोगोई के चालक के बीच विवाद हो गया। होटल के अन्य कर्मचारियों ने तत्काल मेजर तथा उनके चालक को पकड़ लिया तथा पुलिस बुला ली। पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) स्वयम प्रकाश पाणि ने पुलिस अधीक्षक (उत्तर) को घटना की जांच का आदेश दिया।

बता दें कि यह घटना मेजर नितिन लीतुल गोगोई से जुड़ी है जिन्होंने पिछले साल सेना की टीम को पथराव से बचाने के लिए एक व्यक्ति को गाड़ी के बोनट पर बांध दिया था। मेजर गोगोई पिछले साल चर्चा में तब आए थे जब उन्होंने पत्थरबाजों से बचने के लिए एक युवक को जीप के बोनट पर बांधकर दर्जनों गांव में घुमाया था। इसका वीडियो वायरल होने पर सेना की काफी आलोचना हुई थी। साथ ही कश्मीरी युवक फारूख अहमद डार ने भी इस कृत्य के लिए मेजर डार और सेना पर सवाल उठाया था।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here