उत्तर प्रदेश: हरदोई में युवती को अगवा कर गैंगरेप, दरिंदों ने पार की हैवानियत की सारी हदें

0

उत्तर प्रदेश में जब से योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री बने हैं, उनके लिए सबसे बड़ी चुनौती राज्य में बिगड़े कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करना है। क्योंकि आए दिन महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और गैंगरेप की घटनाएं सामने आ रही हैं। ताजा मामला हरदोई के लोनार कोतवाली क्षेत्र में से आया है जहां एक लड़की को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किया गया।महिला पत्रकार

इतना ही नहीं दरिंदों ने पीड़िता के साथ हैवानियत की सभी हद पार करते हुए उसके निजी अंगों पर नुकीली चीज से हमला किया है। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस केस दर्ज करके इस मामले की जांच कर रही है। न्यूज एजेंसी IANS के मुताबिक, पीड़िता ने बताया कि जब वह घर में अकेली थी, तभी दो लोग उसे जबरन उठा ले गए और उसके साथ बलात्कार किया।

इतना ही नहीं दरिंदों ने युवती के गुप्तांग पर नुकीली चीज से हमला भी किया। जानकारी के अनुसार, जनपद के लोनार कोतवाली क्षेत्र पीड़िता की मां की अचानक तबियत खराब होने पर पिता उसे अस्पताल ले कर गए थे। इस दौरान घर में पीड़िता अकेली थी, लेकिन जब पीड़िता के परिजन घर वापस आए तो देखा कि उनकी बेटी नहीं है।

देर रात तक बेटी के नहीं आने पर परिजनों ने इसकी सूचना लोनार पुलिस को दी। इसके बाद भी किसी भी तरह की कार्रवाई नहीं होने पर लड़की का पिता सुबह तहरीर लेकर थाने गया। आरोप है कि जहां पुलिस ने उन्हें शाम तक थाने में ही बैठाए रखा और बाद में बिना रिपोर्ट लिखे घर भेज दिया।

शाम को जब पीड़िता का पिता घर पहुंचा तो पता चला कि लड़की घर आ गई है। जिसके बाद पीड़िता ने अपने साथ हुई दरिंदगी की बात परिजनों को बताई। पीड़िता ने बताया कि गांव के ही उदयभान व नन्हे ने उसके साथ दरिंदगी को अंजाम दिया। शोर मचाने पर पीड़िता के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया और आंख पर पट्टी व हाथ-पांव बांध कर बांस के झाड़ में फेंक दिया गया।

दरिंदों ने उसके गुप्तांगों पर नुकीली चीज से हमला कर उसे घायल भी कर दिया। किसी तरह आरोपियों के चंगुल से छूटकर गैंगरेप पीड़िता घर पहुंची। बेटी की बात सुनने के बाद पिता ने जब पुलिस को बताया तो उसे ही फर्जी मामले में फंसाने की धमकी दे डाली गई। जब युवती की हालत बिगड़ी तो उसे महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इसके बाद पीड़िता के पिता द्वारा दी गई तहरीर पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here