महिलाओं के नाम पर शराब का नाम रखने का सुझाव देने वाले BJP मंत्री ने मांगी माफी, महिला ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत

0

अपने एक बयान को लेकर आलोचनाओं का सामना कर रहे वरिष्ठ बीजेपी नेता और महाराष्ट्र सरकार के जल संसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने माफी मांगते हुए कहा कि उनका इरादा महिलाओं की भावनाओं को आहत करना नहीं था।

गिरीश महाजन

बता दें कि, महाराष्ट्र के नंदूरबार जिले में शनिवार को एक चीनी मिल की ओर से आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मंत्री गिरिश महाजन ने कहा था कि, यदि आप शराब या किसी उत्पाद की मांग बढ़ाना चाहते हैं तो इसका नाम किसी महिला के नाम पर रख दें और देखें कि कैसे मांग में उछाल आता है। उनके इस विवादित बयान के बाद एक श्रमिक संगठन की महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है।

न्यूज़ एजेंसी भाषा की ख़बर के मुताबिक, अपने इस बयान पर सफाई देते हुए मंत्री महाजन ने मुंबई में संवाददाताओं से कहा कि, मुझे अपने बयान पर खेद है। मैं माफी मांगता हूं। मेरा इरादा महिलाओं की भावनाओं को आहत करना नहीं था। उन्होंने कहा कि हल्के-फुल्के अंदाज में उन्होंने यह टिप्पणी की थी और यह बिना किसी मंशा की गलती है।

वहीं दूसरी ओर असंगठित क्षेत्र के श्रमिक यूनियन श्रमिक एलगार की अध्यक्ष और सामाजिक कार्यकर्ता परोमिता गोस्वामी की ओर से भी जिले के मूल पुलिस थाने में मंत्री के खिलाफ शिकायत दाखिल की गई। शिकायतकर्ता गोस्वामी ने कहा कि मंत्री ने यह कहकर महिलाओं का अपमान किया कि ब्रैंड का नाम महिलाओं के नाम पर रखने से शराब की बिक्री में उछाल आएगा।

गोस्वामी ने कल शाम पत्रकारों को बताया कि, संविधान के अनुच्छेद 47 के प्रावधानों के तहत सरकार को राज्य में शराब पर पाबंदी लागू करना है। एक मंत्री के ऐसे बयान से मैं हिल गई और इसलिए पुलिस शिकायत दर्ज कराई। उन्होंने यह भी कहा कि पुलिस यदि मंत्री के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज नहीं करती है तो वह विरोध प्रदर्शन शुरू करेंगी।

ख़बरों के मुताबिक, मूल थाने के निरीक्षक जयवंत चव्हाण ने शिकायत मिलने की पुष्टि की है। महाराष्ट्र सरकार ने 2015 में विदर्भ क्षेत्र के चंद्रपुर जिले में शराब की खरीद-बिक्री, उत्पादन और उपभोग पर पाबंदी लगा दी थी। वहीं बयान को लेकर महाजन की लगातार आलोचना हो रही है।

वहीं दूसरी ओर शिवसेना ने भी अपने मुखपत्र में महाजन पर निशाना साधा। शिवसेना ने कहा, महाराष्ट्र में कई स्थानों पर महिलाएं शराब बिक्री के खिलाफ प्रदर्शन कर रही हैं। इसके बारे में जानकारी होने के बावजूद महाजन ने इस तरह की टिप्पणी की जो दुर्भाग्यपूर्ण है।

बता दें कि गिरीश महाजन भारतीय जनता पार्टी के नेता हैं और उत्तरी महाराष्ट्र के जलगांव जिले में जामनेर विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं। महाजन का एक विवादित वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है जिसमें वे कह रहे हैं कि यदि दारू या किसी अन्य चीज की डिमांड बढ़ानी हो तो उसका नाम किसी महिला के नाम पर रख दो डिमांड अपने आप बढ़ जाएगी। मंत्री के इस बयान के बाद सोशल मीडिया पर लोग उन्हें महिलाओं का अपमान करते हुए बता रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here