केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह बोले- IIT में पढ़कर लोग विदेश चले जाते हैं और बीफ खाना शुरू कर देते हैं, प्राइवेट स्कूलों में हो गीता का पाठ

0

अपने बयानों को अक्सर मीडिया की सुर्खियों में रहने वाले बिहार के बेगूसराय से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसद और केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से विवादित बयान दिया है।

गिरिराज सिंह

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि हम लोग बच्चों को अपनी संस्कृति और पारंपरिक मूल्यों को सिखाने के बजाय मिशनरी स्कूलों में भेजते हैं, वो IIT में पढ़कर इंजिनियर बन जाते हैं और बाद में विदेश चले जाते हैं। जहां जाकर वो बीफ खाने लगते हैं। वो बीफ इसलिए खाते हैं क्योंकि हम उन्हें संस्कार और संस्कृति नहीं पढ़ाते हैं। उन्होंने कहा कि, जरूरत है कि प्राइवेट स्कूलों में बच्चों को गीता का श्लोक पढ़ानी चाहिए।

समाचार एजेंसी ANI के मुताबिक केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि, “भगवद गीता को स्कूलों में पढ़ाया जाना चाहिए, हम अपने बच्चों को मिशनरी स्कूलों में भेजते हैं, वे आईआईटी से पढ़ते हैं, इंजीनियर बनते हैं, विदेश जाते हैं और उनमें से ज्यादातर बीफ (गौ मांस) खाना शुरू कर देते हैं। वो बीफ क्यों खाते हैं? क्योंकि हमने उन्हें अपनी संस्कृति और पारंपरिक मूल्यों को नहीं सिखाया।”

गिरिराज ने भागवत कथा के उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेते हुए कहा, सरकारी स्कूलों में अगर मैं गीता का श्लोक और हनुमान चालीसा पढ़ाने की बात करेंगे तो लोग कहेंगे कि भगवा अजेंडा लागू किया जा रहा है। इसकी शुरुआत प्राइवेट स्कूलों से होनी चाहिए। उन्होंने कहा, प्राइवेट स्कूलों में बच्चों को गीता का श्लोक सिखाया जाए और स्कूल में मंदिर बनाया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here