दुर्गा पूजा पंडाल में BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को बनाया गया महिषासुर राक्षस

0

BHU में छेड़खानी और छात्राओं पर हुए लाठी चार्ज की घटना के बाद BHU के कुलपति गिरिश चन्द्र त्रिपाठी ने छात्रावास की छात्राओं से मुलाकात की थी और उनकी समस्याएं सुनीं थी। उसी समय किसी ने छात्राओं से बातचीत का एक वीडियो बना लिया गया जिसे सोशल मीडिया पर दिखाया गया था।

गिरीश चंद्र त्रिपाठी
Photo Courtesy: Oneindia.com

BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी से छात्राओं की बातचीत का यह वीडियो वायरल हो गया था। इसी कड़ी में BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी के खिलाफ वाणारसी के स्थानीय लोगों व छात्राओं ने विरोध का एक और नया तरीका निकाला है। फेस्टिव सीजन के दौरान लगने वाले दुर्गा पूजा के पंडालों में BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को महिषासुर राक्षस बनाकर दिखाया गया है।

वाराणसी के जगतगंज की दुर्गा पूजा समिति, दशहरा झांकी के लिए सिर्फ वाराणसी ही नहीं बल्कि पूरे पूर्वांचल में मशहूर है। इस झांकी के को देखने के लिए दूर-दूर से हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। कालेज की छात्राओं को पिटवाने का आरोप झेल रहे BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को यहां महिषासुर राक्षस का रूप दिया गया है। इस प्रकार से वहां के लोगों ने BHU के कुलपति गिरीश चंद्र त्रिपाठी को राक्षक दिखाकर अपना विरोध दर्ज किया है।

आपको बता दे कि जब वीसी ने छात्राओं से बातचीत की थी तो यह जताने की कोशिश की कि उन लाठीचार्ज हुआ ही नहीं। जबकि इससे पहले लड़कियों से हुई अभ्रदता और प्रर्दशन के वीडियो सोशल मीडिया पर देखें जा सकते थे।

बातचीत के दौरान वीसी गिरिश चन्द्र त्रिपाठी ने बेहद शर्मनाक बयान देते हुए लड़कियों को लताड़ लगाई थी कि तुमने धर्म का पालन नहीं किया और एक लड़की की अस्मिता को लेकर बाजार में चली गई। उनके इस बयान से उस विचारधारा का सहज ही पता चल जाता है जिसका वो पालन करते दिख रहे थे। लड़कियों के प्रति वीसी गिरिश चन्द्र त्रिपाठी की इस तरह की मानसिकता रखना बेहद चितांजनक है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here