NRC को लेकर सीएम केजरीवाल पर भड़के BJP सांसद गौतम गंभीर, कहा- बेवकूफी भरी बातें कर फजीहत नहीं करानी चाहिए

0

दिल्ली में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर राष्ट्रीय राजधानी का सियासी पारा चढ़ गया है। एनआरसी के मुद्दे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी बुधवार को आमने-सामने आ गए। सीएम केजरीवाल ने मनोज तिवारी का नाम लेकर जो बयान दिया है, उससे राजनीति गरमा गई है।

गौतम गंभीर

दरअसल, बुधवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद सीएम केजरीवाल से पूछा गया था कि दिल्ली में पत्रकार पर जो हमला हुआ था, उस पर मनोज तिवारी का कहना है कि उसके लिए घुसपैठिये ज़िम्मेदार हैं। क्या दिल्ली में एनआरसी लागू होना चाहिए? इसके जवाब में उन्होंने कहा, ‘अगर NRC दिल्ली में लागू हुआ तो सबसे पहले मनोज तिवारी को दिल्ली छोड़नी पड़ेगी।’ सीएम के इस बयान पर पलटवार करते हुए तिवारी ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दूसरे राज्यों के लोगों को विदेशी मानते हैं।

समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए तिवारी ने कहा, ‘मैं पूछना चाहता हूँ कि क्या वह यह कहना चाहते हैं कि पूर्वांचल के लोग घुसपैठिए हैं? क्या दूसरे राज्य के लोगों को सीएम विदेशी मानते हैं? मुझे लगता है कि उनका मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। एक आईआरएस अफसर को कैसे नहीं पता कि एनआरसी क्या है?’

वहीं, देर शाम भाजपा सांसद व पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी सीएम केजरीवाल को घेरा। गौतम गंभीर ने ट्वीट कर कहा कि केजरीवाल को बेवकूफी भरी बातें बोल कर फजीहत नहीं करानी चाहिए।

पूर्वी दिल्ली के भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने बुधवार को ट्वीट कर कहा, “अधूरा ज्ञान, करे परेशान। जानकारी अधूरी हो तो बेवकूफी भरी बातें कर फजीहत नहीं करानी चाहिए। शिक्षा की बात करने वाले अरविंद केजरीवाल को इस बात की जानकारी नहीं है की NRC देश से बाहर के लोगों पर लागू होता है। इनके बयान के हिसाब से तो इन्हें भी दिल्ली छोड़ देनी पड़ेगी! (Born in Haryana)”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here