कर्नाटक पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- गौरी लंकेश और एमएम कलबुर्गी हत्या मामलों के बीच कुछ तो संबंध है

0

कर्नाटक पुलिस ने मंगलवार (11 दिसंबर) को सुप्रीम कोर्ट से कहा कि हिंदुत्ववादी राजनीति पर मुखर नजरिया रखने वाली बेंगलुरु की वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश और तर्कवादी एमएम कलबुर्गी की हत्या के मामलों के बीच कुछ तो संबंध प्रतीत होता है।

गौरी लंकेश

राज्य की पुलिस ने शीर्ष अदालत को यह भी बताया कि कलबुर्गी की हत्या मामले में वह तीन महीने के भीतर आरोप पत्र पेश करेगी। बता दें कि न्यायमूर्ति यूयू ललित और न्यायमूर्ति नवीन सिन्हा की पीठ वर्ष 2015 में धारवाड़ में हुई तर्कवादी एवं विद्वान कलबुर्गी की हत्या से जुड़े मामले की सुनवाई कर रही है।

बता दें कि इससे पहले 26 नवंबर को शीर्ष अदालत ने कर्नाटक सरकार की खिंचाई की थी और कहा था कि वह जांच में कुछ नहीं, बस, दिखावा कर रही है। साथ ही न्यायालय ने संकेत दिया था कि वह मामले को बंबई उच्च न्यायालय स्थानांतरित कर सकती है।

गौरतलब है कि, दक्षिण पंथी विचारधारा के खिलाफ लिखने वाली वरिष्ठ पत्रकार गौरी लंकेश की 5 सितंबर 2017 को उनके घर के बाहर अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। गौरी वीकली टैबलॉइड ‘गौरी लंकेश पत्रिके’ की एडिटर थीं और इस टैबलॉइड के जरिए गौरी लगातार कम्युनल पॉलिटिक्स और कास्ट सिस्टम के खिलाफ लिखती थीं। वे राइट विंग और हिंदुत्व पॉलिटिक्स की भी विरोधी थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here