महाराष्ट्र : गणेश विसर्जन प्रक्रिया के दौरान 16 लोगों की मौत, दो लापता

0

महाराष्ट्र में 11 दिवसीय गणेशोत्सवक समाप्त होने के बाद गुरुवार को शुरू हुई विसर्जन प्रक्रिया में शुक्रवार सुबह तक 16 लोगों की मौत की सूचना है, जबकि दो लापता बताए जा रहे हैं. नासिक में गुरुवार को भारी बारिश के बीच विसर्जन के दौरान सात लोगों की मौत हो गई.

भाषा की खबर के अनुसार,मूर्ति विसर्जन के दौरान मुसालगांव के एक तालाब में सेना के जवान संदीप शिरसत और एक अन्य स्थानीय नागरिक रामेश्वर की डूबने से मौत हो गई, जबकि जिले के अन्य गांवों में नीलेश पाटिल, भूषण कास्बे, सुमित पवार, अमोल पाटिल और रोशन साल्वे की डूबकर मौत हो गई.

Also Read:  मशीनों से दिल्ली को स्वच्छ बनाने का नमूना दिखाया केजरीवाल सरकार ने

वर्धा जिले में नदी में विसर्जन के दौरान भगवान गणेश की मूर्ति के साथ सेल्फी लेने के क्रम में तीन छात्रों की डूबकर मौत हो गई, जबकि उनके एक दोस्त को स्थानीय नागरिकों ने बचा लिया.

गोदावरी में विसर्जन के दौरान वालुज के एक स्कूल शिक्षक परमेश्वर शेनगुले की डूबने से मौत हो गई, जबकि नांदेड़ में एक सफाईकर्मी की भी मौत हो गई. जलगांव की कांग नदी में दो युवा पानी के तेज प्रवाह में बह गए. एक का शव बरामद कर लिया गया, जबकि एक अन्य लापता है. पुणे में विसर्जन के बाद से दो लोग लापता हैं. अभी इस बारे में विस्तृत जानकारी उपलब्ध नहीं है.

Also Read:  सुषमा स्वराज का आज हो सकता है एम्स में किडनी ट्रांसप्लांट

नागपुर में एक 27 वर्षीया महिला मनीषा के.मासाराम की मौत बुधवार रात हनुमान मंदिर गणेशोत्सव मंडल में प्रसाद बनाने की लड़ाई के दौरान हो गई. मनीषा का भाई लोकेश और एक अन्य व्यक्ति दर्शन आपस में लड़ रहे थे. इसी बीच वह बीच-बचाव करने पहुंचीं और धक्का लगने से गिर पड़ीं. इस घटना में उनकी मौत हो गई.

Also Read:  हिंदुत्व की रक्षा और प्रचार-प्रसार के लिए सोशल मीडिया पर सैनिकों की फौज बनाएगा RSS से जुड़ा संगठन

पंचपोली क्षेत्र के बुद्धनगर में गणेशोत्सव के दौरान ‘महाप्रसाद’ के लिए बनाई जा रही दाल की खौलती कहाड़ी में पांच साल की एक बच्ची प्रिया एस.माहुले गिर गई, जिससे उसकी मौत हो गई. वह 80 प्रतिशत से अधिक जल गई थी और बुधवार सुबह उसने दम तोड़ दिया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here